Sunday, October 17, 2021

हरियाणा की शान फौगाट परिवार में दंगल, भतीजी और ताऊ हुए आमने-सामने, जानिए क्या है पूरा मामला

Must Read

दिल्ली में बन रही है सबसे बड़ी सुरंग सडक़, बिना जाम के फर्राटा भरेंगे एनसीआर और हरियाणा के लोग

नई दिल्ली। दिल्ली के लोगों के लिए यह बड़ी खुशखबरी हो सकती है। अब उन्हें दिल्ली के जाम से...

खूबसूरत होने के साथ ही बेहद ही इंटेलीजेंट हैं IAS टीना डाबी, UPSC स्टुडेंटस को देती हैं टिप्स

नई दिल्ली। यूपीएससी पास करने के बाद आईएएस अधिकारियों को कौन सी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। यह...

केंद्रीय मंत्री गुर्जर ने कहा, राशन कार्ड है तो जरूर मिलेगा मुफ्त अनाज, टेंशन लेने की जरूरत नहीं

फरीदाबाद । प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना जरूरतमंद परिवारों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण महत्वकांक्षी योजना है। यह विचार ऊर्जा एवं...

नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक में अनुशासहीनता दिखाने वाली भारत की नंबर वन पहलवान विनेश फौगाट के खिलाफ उनके ताऊ भी हो गए है। ताऊ ने भी खुले शब्दों में बोल दिया है कि अनुशासनहीनता किसी भी खिलाड़ी की बर्दाश्त नहीं होनी चाहिए। सभी को अपने दायरे का ध्यान रखना चाहिए।

विनेश फोगाट के खिलाफ अनुशासनहीनता

भारतीय कुश्ती महासंघ ने विनेश फोगाट के खिलाफ अनुशासनहीनता को लेकर कार्रवाई की गई थी। उनको निलंबित करते हुए 16 अगस्त तक जवाब देने का समय दिया गया था। विनेश पर आरोप है कि उन्होंने अपने मैच के समय किसी दूसरे ब्रांड के कपड़े पहने। विनेश ने नाइक के कपड़े पहने थे। जबकि शिवनरेश ने भारतीय खिलाडिय़ों को स्पांसर किया था। इस मामले में भारतीय कुश्ती महासंघ की भी किरकिरी हुई थी। विनेश सीधा हंगरी से टोक्यो पहुंची थी। उनको भी खेल गांव में ठहराया गया था। लेकिन विनेश ने इन खिलाडिय़ों के साथ रहने से यह कहते हुए मना कर दिया कि यह खिलाड़ी भारत से आए है। इनके साथ रहने या अभ्यास करने से उनको भी कोरोना हो सकता है।

विनेश ने किया था निराशाजनक प्रदर्शन

विनेश फौगाट ने अपने मैच में भी निराशाजनक प्रदर्शन किया था। वह क्वार्टरफाइनल में ही हारकर बाहर हो गई थी। जबकि सभी को उनसे गोल्ड मेडल की उम्मीद थे। उनको भारत में नंबर वन पहलवान कहा जाता है। विनेश ने बचपन में महावीर से ही कुश्ती के दांव पेच सीखे थे। फिल्म दंगल में भी महावीर फौगाट का रोल आमिर खान ने किया है। महावीर ने कहा कि विनेश ने मैच के दौरान दूसरे ब्रांड के खिलाड़ी की टीशर्ट पहनी थी तो यह गलत है। अगर फेडरेशन इसको अनुशासनहीनता मानता है तो यह बिल्कुल सही है। किसी भी खिलाड़ी को अपने दायरे से बाहर नहीं जाना चाहिए।

 खिलाडिय़ों को मिलेगा सबक

महावीर बताते है कि इस मामले से केवल विनेश बल्कि सभी खिलाडिय़ों को सबक मिलेगा। वह कहते है कि कोई भी बड़ा खिलाड़ी अनुशासन से ही बनता है। बिना अनुशासन के खिलाड़ी हमेशा परेशान ही रहता है। विनेश को जवाब देने के लिए 16 अगस्त तक का समय दिया गया है। अगर वह जवाब नहीं देती तो वह राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय किसी भी प्रतियोगिता में भाग नहीं ले पाएंगी। वहीं अगर उनका जवाब संतोषजनक नहीं होता है तो भी उन पर यह कार्रवाई होगी।

 नहीं कर पाई सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

महावीर फौगाट ने कहा कि विनेश स्वर्ण पदक जीतने की दावेदार थी। लेकिन मुकाबले के दौरान उनका बीपी डाउन होने की वजह से वह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाई। वह आने वाले समय में कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स में शानदार प्रदर्शन करेगी। भाई हरविंदर कहते है कि उनको इस बात की जानकारी नहीं है कि विनेश को किस बारे में नोटिस दिया गया है। टोक्यो ओलंपिक में वह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाई। उन्होंने कहा कि विनेश को नोटिस दिया गया है तो उनकी बहन 16 अगस्त तक इसका जवाब दे देगी। उम्मीद है कि वह आगे प्रतियोगिताओं में खेलती हुई नजर आएगी।

- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Connect With Us

223,344FansLike
3,123FollowersFollow
3,497FollowersFollow
22,356SubscribersSubscribe

Latest News

दिल्ली में बन रही है सबसे बड़ी सुरंग सडक़, बिना जाम के फर्राटा भरेंगे एनसीआर और हरियाणा के लोग

नई दिल्ली। दिल्ली के लोगों के लिए यह बड़ी खुशखबरी हो सकती है। अब उन्हें दिल्ली के जाम से...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!