Thursday, September 23, 2021

पीएम मोदी ने हरियाणा की रेसलर विनेश फौगाट के ताऊ से पूछा, कौन से चक्की का आटा खिलाते हो अपनी पहलवान बेटियों को

Must Read

बेरोजगारों के लिए बड़ी खबर ,फरीदाबार में 26 सितंबर को लगेगा रोजगार मेला, कई बड़ी कंपनियां बाटेंगी नौकरियां

फरीदाबाद । हरियाणा कौशल विकास मिशन की परियोजना प्रबंधक अधिकारी  नेहा छाबड़ा ने बताया कि हरियाणा कौशल विकास मिशन...

बुजुर्गों को नहीं मिल पा रही थी पेंशन, दर-दर भटक रहे थे सभी, ऐसे में मिला सीएम मनोहर लाल का सहारा

फरीदाबाद । गाँव मलेरना में पिछले तीन महीने से बुजुर्गों को पेंशन नहीं आने की सूचना पर मुख्यमंत्री मनोहर...

DAV शताब्दी महाविद्यालय फरीदाबाद में हुआ सेमीनार, मुख्य वक्ता ने कहा, स्वस्थ शरीर मे ही स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है

Faridabad News (citymail news) डी ए वी शताब्दी महाविद्यालय फरीदाबाद तथा राष्ट्रीय चेतना शक्ति फाउंडेशन के सौजन्य से 'स्वास्थ्य...

नई दिल्ली। ओलंपिक खेलों में भाग लेने वाले भारतीय खिलाडिय़ों को प्रोत्साहित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बात की। पीएम मोदी ने सभी खिलाडिय़ों को शुभकामनाएं देते हुए उन्हें देश के लिए मैडल जीतकर लाने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि सभी खिलाड़ी अपना सौ प्रतिशत देते हुए पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन करेंगे, ऐसी उन सभी से मेरी उम्मीद है। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी किसी भी देश के लिए सबसे महत्वपूर्ण होते हैं। भारत के खिलाड़ी भी अपने देश के लिए कई मायनों में बहुत खास हैं। इसलिए वह सभी को शुभकामनाएं देते हैं कि वह अपने देश का गौरव जरूर बढ़ाएंगे। इसके साथ ही पीएम मोदी ने हरियाणा के खिलाडिय़ों से भी विशेष रूप से बातचीत की।

रेसलर विनेश के ताऊ से पीएम मोदी ने कहा

हरियाणा के बलाली गांव निवासी और अंतर्राष्ट्रीय पहलवान विनेश फौगाट एवं उनके परिवार वालों से भी पीएम ने बातचीत की। उन्होंने विनेश फौगाट को शुभकामनाएं दी और कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि वह देश के लिए मैडल जरूर लाएंगी। इस मौके पर पीएम ने विनेश के ताऊ और उनके कोच महावीर फौगाट से भी बात की। इस बातचीत में मजाकिया लहजे में पीए ने महावीर फौगाट से कहा कि वह अपनी बेटियों को कौन सी चक्की का आटा खिलाते हैं। बता दें कि महावीर फौगाट विनेश फौगाट के ताऊ तो हैं ही, साथ ही वह आमिर खान की फिल्म दंगल से चर्चाओं में आई इंटरनेशनल रेसलर गीता और बबीता फौगाट के पिता भी हैं। गीता और बबीता ने भी अपनी पहलवानी के दम पर दुनिया भर में अपने देश का नाम चमकाया है। अब उनकी चचेरी बहन विनेश फौगाट ओलंपिक खेलों में पदक लाने के लिए तैयार है। महावीर फौगाट खुद भी राष्ट्रीय स्तर के पहलवान रहे हैं और उन्हें कई पुरस्कारों से नवाजा जा चुका हैय।

Vinesh Phogat Image

पीएम के सवाल पर महावीर ने दिया ये जवाब

जैसे ही पीएम ने महावीर फौगाट से उनकी बेटियों की उपलब्धियों को देखते हुए पूछा कि वह अपनी बेटियों को कौन सी चक्की का आटा खिलाते हैं तो उन्होंने हंसते हुए जवाब दिया कि वह अपने घर की चक्की का आटा खिलाते हैं। गाय-भैंसों का दूध, घी और मक्खन भी खिलाते हैं। इस बातचीत में पीएम ने विनेश फौगाट से बात करते हुए उनकी हौंसला अफजाई की और कहा कि रियो ओलंपिक में चोट लगने की वजह से वह मैडल लाने से चूक गई थी। ,मगर अब वह उस बीते वक्त को भुलाकर अपनी कमजोरी को ही अपनी ताकत बनाएं और देश के लिए मैडल लाने का भरपूर प्रयास करें। इस पर विनेश ने भी पीएम को भरोसा दिलाया कि उनका लक्ष्य ओलंपिक में मैडल लाना रहेगा और वह इसमें सफल भी होंगी। इस दफा वह किसी को निराश नहीं करेंगी।

कठिन संघर्ष में बीता विनेश का बचपन

बता दें कि हरियाणा के बलाली गांव की रहने वाली विनेश फौगाट का बचपन कठिनाईयों से भरा रहा है। जब वह 13 साल की थीं, तब उनके पिता का निधन हो गया था। इसी दौरान मां कैंसर से जूझती रही। तब विनेश ने बड़े होते होते ना केवल अपनी मां की पूरी देखभाल की, बल्कि अपने खेल को भी पीछे नहीं छुटने दिया। अपनी चचेरी बहनों गीता और बबीता के साथ साथ विनेश ने भी पहलवानी में खूब नाम कमाया। हालांकि रियो में चोट लगने की वजह से वह मैडल लाने से चूक गई थी। मगर इस बार पूरे देश को विनेश से टोक्यो ओलंपिक में बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद है।

सभी बहनों की हो चुकी है शादी

विनेश को उसके ताऊ महावीर फौगाट ने ही पहलवानी के लिए प्रशिक्षित किया है। विनेश ने अपनी बहनों गीता और बबीता के साथ रहते हुए ही पहलवानी के गुर सीखे हैं। हालांकि गीता और बबीता का विवाह हो चुका है और विनेश भी दो साल पहले ही शादी के बंधन में बंध चुकी है। परंतु उसने कभी भी अपने विवाह को खेलों के बीच में नहीं आने दिया। विवाह के बाद भी विनेश ने रेसलिंग की दुनिया में खुद को स्थापित किए रखा है। वह लगातार प्रेक्टिस करती रहीं और अब वह टोक्यो ओलंपिक से पदक लाने की तैयारी में है। उन्होंने अपने खेल के साथ साथ परिवार को भी बराबर संभाल कर रखा है। जिसके चलते ही ओलंपिक खेलों में जाने वाले भारतीय खिलाडिय़ों के दल में विनेश को शामिल किया गया है।

विनेश ने जीते इतने मैडल

विनेश ने अपने अदभुत खेल के दम पर अब तक गई मैडल जीते हैं। साल 2014 में कॉमनवेल्थ खेलों में गोल्ड मैडल जीतकर अपने देश और प्रदेश का नाम रोशन किया था। इसके बाद एशियन गेम्स में ब्रॉज, 2017 में आयोजित एशियन चैंपियनशिप में सिल्वर, 2018 में एशियन चैंपियनशिप में दोबारा से सिल्वर मैडल झटका। इसके बाद विनेश ने 2018 में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मैडल जीता और फिर से एक बार एशियन गेम्स में गोल्ड मैडल अपने नाम किया। इसके बाद ही अब विनेश को टोक्यो ओलंपिक के लिए टिकट मिला है।

- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Connect With Us

223,344FansLike
3,123FollowersFollow
3,497FollowersFollow
22,356SubscribersSubscribe

Latest News

बेरोजगारों के लिए बड़ी खबर ,फरीदाबार में 26 सितंबर को लगेगा रोजगार मेला, कई बड़ी कंपनियां बाटेंगी नौकरियां

फरीदाबाद । हरियाणा कौशल विकास मिशन की परियोजना प्रबंधक अधिकारी  नेहा छाबड़ा ने बताया कि हरियाणा कौशल विकास मिशन...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -
Do NOT follow this link or you will be banned from the site!