Delhi-NCR और हरियाणा में अभी जारी रहेगा सूर्य देवता का प्रकोप, हवा भी हुई खराब, बारिश से मिलेगी राहत

0

New Delhi देश की राजधानी दिल्ली में एक ओर गर्मी लोगों की मुसीबत बनी हुई है तो वहीं अब हवा की बिगड़ती दिशा भी लोगों की परेशानी को और बढ़ाते दिख रही है. दरअसल, बीते 24 घंटे में दिल्ली-एनसीआर की हवा बेहद खराब श्रेणी में दर्ज गई है. वहीं, अगले 24 घंटे भी हालात में सुधार होते हुए नहीं दिखेगा.

मिली जानकारी के मुताबिक, एनसीआर में केवल गुरुग्राम की हवा औसत श्रेणी में दर्ज हुई. दरअसल, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, बीते दिन बुधवार को दिल्ली की हवा की गुणवत्ता 305 दर्ज हुई तो वहीं, फरीदाबाद की 280, गाजियाबाद की 300, गुरुग्राम की 182, ग्रेटर नोएडा की 338 और नोएडा की 347 दर्ज हुई.

मौसम विभाग के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव की माने तो राजस्थान से धूल भरी हवाएं दिल्ली के वातावर्ण को प्रदूषित करने का कारण बन रही हैं. उन्होंने बताया कि शुक्रवार तक ये जारी रहेगा. वहीं उन्होंने ये भी कहा कि, 12 जून को बारिश की संभावना से प्रदूषण के स्तर में कमी दर्ज की जा सकती है.

दिल्ली और हरियाणा में गर्मी की बात करें तो बीते दिन बुधवार को न्यूनतम तापमान 31.4 डिग्री सेल्सियस पर जा पहुंचा. बताया जा रहा है कि ये इस सीजन का सबसे अधिक न्यूनत तापमान मांपा गया. वहीं, अगले 24 घंटों में भी हरियाणा और दिल्लीवासियों को गर्मी से राहत मिलते हुए नहीं दिख रही है.

स्काईमेट वेदर ने जताया अनुमान

वहीं इस बीच मौसम का अनुमान बताने वाली एजेंसी स्काईमेट वेदर ने घोषणा की है कि जल्द ही मानसून के रफ्तार पकडऩे के आसार बन चुके हैं। जिसके बाद देश के कई राज्यों में भारी बारिश की संभावना दिखाई दे रही है। स्काईमेट वेदर के महेश पलावत के अनुसार मुंंबई सहित महाराष्ट्र के तटों पर भारी बारिश हो रही है। बंगाल की खाड़ी में बनने वाला निम्र दबाव के चलते पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, झारखंड,छत्तीसगढ़, विदर्भ , तेलगांना और पूर्वी मध्यप्रदेश में जमकर बारिश होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here