फरीदाबाद व्यापार मंडल ने कहा, छोटे दुकानदारों को दिया जाए राहत पैकेज और खोल दिए जाएं बाजार

0

फरीदाबाद। व्यापार मंडल फरीदाबाद की एक आवश्यक बैठक हुई, जिसकी अध्यक्षता प्रधान जगदीश भाटिया ने की। इस अवसर पर काफी संख्या में व्यापारी प्रतिनिधि एवं पदाधिकारी मौजूद थे। इस अवसर पर सभी व्यापारियों ने एकमत से बाजार खोलने का समय बढ़ाने की मांग की। सभी व्यापारियों ने कहा कि सरकार को सुबह आठ से रात आठ बजे तक बाजार खोलने की अनुमति दी जानी चाहिए। इस मौके पर बैठक को संबोधित करते हुए व्यापार मंडल के प्रधान जगदीश भाटिया ने कहा कि सरकार ने घोषणा की थी कि जब कोरोना पॉजीटिव रेट मात्र पांच प्रतिशत रह जाएगा, तब लोगों को लॉकडाऊन में छूट दी जा सकती है। श्री भाटिया ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एवं केंद्रीय राज्यमंत्री तथा सांसद कृष्णपाल गुर्जर से अपील की है कि अब बाजार खोलकर व्यापारियों को राहत प्रदान की जाए।

श्री भाटिया ने कहा कि फरीदाबाद में तो पॉजीटिव रेट अब दो प्रतिशत पर आ गया है। इसलिए इस जिले को लॉकडाऊन से मुक्त कर देना चाहिए। हालांकि सभी व्यापारी सरकार के साथ इस लॉकडाऊन में कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग करते रहे हैं। मगर अब सरकार को भी व्यापारियों के हित में फैसला लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी दुकानदारों को किराए, बिजली बिल और कर्मचारियों का वेतन भी निकालना होता है। पंरतु बाजार बंद रहने से व्यापारियों की कमर टूट गई है। इसलिए उनकी सरकार से अपील है कि फरीदाबाद में लॉकडाऊन खोलकर व्यापारियों को राहत देनी चाहिए। श्री भाटिया ने कहा कि राईट-लेफ्ट की नीति से भी दुकानदारों को छुटकारा दिया जाए।

श्री भाटिया ने कहा कि इसके बावजूद यदि कभी सरकार को लगे कि कोरोना को कंट्रोल करने के लिए व्यापारियों का सहयोग चाहिए तो वह फिर उसके लिए तैयार रहेंगे। उन्होंने हमेशा से सरकार का पूरा सहयोग किया है। श्री भाटिया ने सरकार से मांग की है कि दुकानों के खोलने का समय बदलते समय साप्ताहिक अवकाश भी लागू किया जाना चाहिए। इसके लिए शनिवार व रविवार के दिन छोडक़र किसी भी अन्य दिन को अवकाश के रूप में चुना जा सकता है। प्रधान जगदीश भाटिया ने यह भी कहा कि राज्य सरकार छोटे दुकानदारों के बारे में सोचते हुए उनके लिए किसी राहत पैकेज की घोषणा करे। जिस तरह से शराब के ठेकेदारों को रियायत दी गई है, ठीक उसी प्रकार से छोटे दुकानदारों के लिए भी राहत पैकेज की घोषणा की जानी चाहिए।

इस अवसर पर एनआईटी नंबर-5 मार्केट के प्रधान सतनाम सिंह मंगल ने कहा कि बीते दिनों पांच नंबर बाजार में बाजार बंद करने के समय एक दुकानदार को पुलिस द्वारा उठाकर ले जाया गया, जोकि सरासर गलत है। वह इसका पुरजोर विरोध करते हैं। जब दुकानदार हर तरह से प्रशासन और सरकार का सहयोग कर रहे हैं तो प्रशासन को भी इसका ध्यान रखना चाहिए। यदि दुकान बंद करने के समय कोई ग्राहक खड़ा है तो उस वक्त प्रशासन को सहयोग की नीति अपनानी चाहिए। शाम के समय खुद दुकानदार निर्धारित समय पर अपनी दुकान बंद करने के लिए तैयार रहता है। इसलिए प्रशासन व पुलिस को दुकानदारों के साथ अभद्रता नहीं करनी चाहिए।

इस अवसर पर व्यापार मंडल के प्रतिनिधि के तौर पर वेदप्रकाश कुकरेजा, महासचिव बंसी कुकरेजा, कैशियर जगनशाह, उपप्रधान हरीश भाटिया, जवाहर कालोनी मार्केट एसोसिएशन के प्रधान नीरज भाटिया, ओल्ड प्रेस कालोनी मार्केट के प्रधान सुनील दत्त, संजय कालोनी सैक्टर 23 मार्केट के प्रधान संजीव कुमार, हरजिंदर मेंहदीरत्ता, पर्वतीया कालोनी मार्केट के प्रधान राममेहर, महासचिव जवाहर कालोनी अश्वनि रस्तोगी, एनआईटी नंबर-5 मार्केट प्रधान सतनाम सिंह मंगल, एनआईटी नंबर-2 मार्केट प्रधान हरीश सेठी, नेहरू ग्राऊंड लोहामंडी प्रधान सीपी कालरा, एनआईटी नंबर-3 मार्केट प्रधान नरेंद्र भाटिया, तिकोना मार्केट प्रधान प्रेम भाटिया, अनिल बांगा, सुरेंद्र आहुजा, पंकज खरबंदा, अश्वनि सिघंल, एवं प्रदीप मल्होत्रा भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here