करोड़ों डकार कर भी फरीदाबाद की पब्लिक को ठेंगा दिखा रही है ईकोग्रीन, हड़प लिए कूड़ा उठाने वाले रिक्शे

0
Faridabad News (citymail news) हर घर से कूड़ा उठाने को लेकर नगर निगम आयुक्त की ओर से बार बार इको ग्रीन कंपनी को आदेश दिए जाते है। लेकिन इको ग्रीन कंपनी कूड़ा उठान को लेकर लगातार लापरवाही करती है। जिसका खामियाजा शहर को स्वच्छता रैंकिंग में भुगतना पड़ता है। शहर की पतलीी गलियों में मौजूद मकानों से कूड़ा उठाने को लेकर इंडियन ऑयल ने 25 ई-रिक्शे निगम को सौंपे थे। निगम ने यह रिक्शे इको ग्राीन को दे दिए थे। ताकि वह कूड़ा उठान का काम अच्छी तरीके से कर सके। 10 अप्रैल को इन रिक्शों को मुख्यमंत्री ने हरी झंडी भी दिखाई। इको ग्रीन के लापरवाही की बानगी तो देखिए पिछले डेढ माह से रिक्शे इको ग्रीन के प्लांट में ही खड़े है।  इस बारे में जब ईकोग्रीन के अधिकारियों से बात करने के लिए फोन किया जाता है तो वह फोन उठाना ही जरूरी नहीं समझते है। हालांकि निगम के अतिरिक्त आयुक्त के अनुसार जल्द ही रिक्शों को शुरू करवाया जाएगा।
घर घर से कूड़ा उठाने के लिए दिये थे ई रिक्शे
इस वक्त शहर में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत ईकोग्रीन कंपनी कूड़ा उठाने का कार्य कर रही है। वह हर रोज शहर से 800 टन के करीब कूड़ा उठा कर बंधवाड़ी प्लांट तक ले जाती है। वैसे बंधवाड़ी में अभी तक कूड़े से बिजली बनाने का संयंत्र भी नहीं लगाया गया है जिस कारण वहां पर भी कूड़े का ढेर बनता जा रहा है। इसके अलावा शहर के अंदर 40 वॉर्डों में स्लम की संख्या ज्यादा है जहां पर पतली गलियां है। कॉलोनियों के अंदर भी पतली गलियों के अंदर बड़े वाहन कूड़ा उठाने के लिए नहीं जा सकते हैं।
इंडियन आयल ने दिए थे 25 रिक्शे 
पतली गलियों को देखते हुए सीएसआर के तहत इंडियन ऑयल कंपनी ने  नगर निगम को 25 ई रिक्शे दान मेंं दिये थे। ताकि कूड़ा उठान की व्यवस्था सही हो सके। 10 अप्रैल को सीएम मनोहर लाल ने हरी झंडी दिखाकर इन रिकशों को शुरू  कर दिया था लेकिन उनके हरी झंडी दिखाने के बावजूद अभी तक इन रिक्शों को इस्तेमाल नहीं किया गया है। ये रिक्शे नगर निगम ने ईकोग्रीन को दे दिये थे लेकिन ईकोग्रीन के डबुआ कॉलोनी स्थित प्लांट पर धूल फांक रहे हैं।
जल्द चालू कराएंगे
इस बारे में ईकाग्रीन के सीईओ संजय शर्मा ने बताया कि ई रिक्शों को इस्तेमाल में क्यों नहीं लाया गया इस बारे में मुझे पता नहीं है। लेकिन अगर नए ई रिक्शों का इस्तेमाल नहीं हो रहा है तो अधिकारियों को बोल कर इसे जल्द शुरू करवा दिया जाएगा।

क्या कहते हैं निगम अधिकारी

नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त इंद्रजीत कुलेहिरया का कहना है कि नगर निगम ने इन रिक्शोंं को ईकोग्रीन को दे दिया था। अगर ईकोग्रीन ने इन्हें अभी तक शुरू नहीं किया तो उन्हें आदेश देकर इनका इस्तेमाल करने के लिए कहा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here