डाक्टरों ने बाबा रामदेव से कहा, इतनी बेशर्मी अच्छी नहीं, कुछ तो शर्म करो, लोगों की सेवा कर अपनी जान दे रहे हैं वह

0
Ramdev
Faridabad News (citymail news) आई एम ए फरीदाबाद ने बाबा रामदेव की कथित रूप से 20 मई 2021 की उस वीडियो पर कड़ी आपत्ति जताई है जिसमें उन्होंने एलोपैथी को दिवालिया  विज्ञान कहा  है। उसी दिन से यह वीडियो वायरल हो रहा है।बाबा ने उस वीडियो में यह भी कहा है कि एलोपैथी लाखों लोगों की मौत की जिम्मेदार है और एलोपैथी ऐसा मंद और दिवालिया विज्ञान है जिसमें सभी दवाइयां फेल हो गई है।
 बड़े ही शर्म की बात है, इतनी ऊंची छवि रखने वाले बाबा को इस तरह के बयान देने से पहले यह ध्यान रखना चाहिए था कि एलोपैथी के डॉक्टर पिछले डेढ़ साल से पूरे देश के मरीजों की कोरोना से रक्षा करने में जी जान से लगे हुए हैं।  अब तक करीब  1200 डॉक्टरों ने अपनी जान भी गवाई है। देश में स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी होने के बावजूद भी डॉक्टरों के हौसले और उनकी मेहनत के कारण ही भारत में मृत्यु दर विकसित देशों की तुलना में कम रही है।
 डॉ सुरेश अरोड़ा ने बताया कि अब तक एलोपैथी के डॉक्टरों ने जितने भी तरीकों से कोरोना के मरीजों का इलाज किया है वह सभी भारत सरकार के द्वारा बनाए गए नियमों व औषधि नियंत्रक की मंजूरी के तहत ही उपयोग किए गए हैं । इस तरह से बाबा ने भारत सरकार  की क्षमता पर भी सवाल उठाए हैं।
डॉ पुनीता हसीजा ने बताया कि बाबा के इस तरह के बयानों से देश के सभी डॉक्टरों में हताशा है और चिकित्सा जगत को आघात पहुंचा है। हम यह मांग करते हैं कि सरकार को बाबा के विरुद्ध तुरंत कानूनी कार्यवाही करनी चाहिए नहीं तो आइ एम ए  हेड क्वार्टर के लेवल पर उनके खिलाफ अदालती  कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here