सोनू सूद का बड़ा कारनामा, फ्रांस से मंगाए अपने देशवासियों के लिए ऑक्सीजन प्लांट

0

मुंबई। वैसे तो कोरोना काल में बॉलीवुड के बहुत से अभिनेता और हीरोईन मदद के लिए आगे आ रहे हैं। अमिताभ बच्चन से लेकर सलमान खान, अक्षय कुमार, अनुपम खेर और प्रियंका चोपड़ा ने पीडि़त और जरूरतमंद लोगों की सहायता का अभियान चलाया है। पंरतु इन सबसे ऊपर फिल्म अभिनेता सोनू सूद का नाम लिया जा सकता है। जोकि रात दिन के अथक प्रयासों से जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए जीतोड़ मेहनत कर रहे हैं। उनका केवल यही प्रयास रहता है कि किसी बीमार की जान बचाई जा सके। इसके लिए वह अपनी टीम के साथ दिन रात काम करते हैं। देश के कोने कोने में उनकी टीम लोगों को मदद पहुंचा रही है।

पहले चीन से मंगवाए थे ऑक्सीजन कंसनटे्रटर्स

देश भर में ऑक्सीजन के संकट को देखते हुए सोनू सूद ने लगातार प्रयास कर रहे हैं कि किसी भी शख्स की जान इसकी वजह से ना जाने पाए। इसलिए पहले उन्होंने चीन से अपील कर ऑक्सीजन कंसनटे्रटर्स मंगवाए और अब वह फ्रांस से भी ऑक्सीजन प्लांट मंगवाने के काम में जुट गए हैं। हाल ही में उनकी टीम के प्रमुख सदस्य रमेश बाला ने टवीट के जरिए यह जानकारी लोगों से शेयर की है। रमेश बाला ने बताया है कि सोनू सूद ने लोगों तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए फ्रांस से ऑक्सीजन के प्लांट मंगवाए हैं।

ऑक्सीजन से ना जाए कोई भी

सोनू सूद यह भली भांति जानते हैं कि ऑक्सीजन के संकट की वजह से लोगों को बहुत समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऑक्सीजन की वजह से लोगों के प्राण संकट में हैं। उनके पास लगातार लोग इस बात के लिए मैसेज भेज रहे हैं कि उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत है। सोनू भी अपनी ओर से भरसक प्रयास कर रहे हैं कि वह जरूरतमंद लोगों तक ऑक्सीजन भेज सकें। इसके लिए उनकी टीम के लोग ऑक्सीजन सिलेंडर भिजवा भी रहे हैं। इसके बाद भी जितनी जरूरत है, उतनी आपूर्ति वह नहीं कर पा रहे हैं।

इतने समय में आएंगे ऑक्सीजन प्लांट

इसे देखते हुए ही सोनू ने फ्रांस से ऑक्सीजन प्लांट मंगवाने के लिए आर्डर दे दिया है। माना जा रहा है कि 10 से 12 दिनों के भीतर यह प्लांंट भारत पहुंच जाएंगे। जिसके बाद यही संभावना होगी कि लोगों को तत्काल रूप से ऑक्सीजन उपलब्ध करवाई जा सकेगी। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार ऑक्सीजन प्लांट आने के बाद जहां भी जरूरत महसूस की जाएगी, वहां ऑक्सीजन के भरे हुए सिलेंडर पहुंचा दिए जाएंगे। देश भर के अस्पतालों को भी इसका लाभ मिलेगा और वह अपने मरीजों को ऑक्सीजन के अभाव में जाने नहीं देंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here