डीपीएस ग्रेटर फरीदाबाद मेंं बनें कोरोना सेवा केंद्र का निरीक्षण करने पहुँचे डीसी और सीएम के राजनैतिक सचिव

0

फरीदाबाद। ग्रेटर फरीदाबाद में स्थापित किए गए कोरोना सेवा केंद्र यानि कि अस्थाई कोविड सेंटर में जिला उपायुक्त यशपाल यादव एवं मुख्यमंत्री मनोहर लाल के राजनैतिक सचिव अजय गौड़ औचक निरीक्षण करने के लिए पहुंचे। इस सेवा केंद्र को हाल ही में दिल्ली पब्लिक स्कूल के चेयरमैन रोहित जैन के सहयोग से स्थापित किया गया है। कोविड सेंटर में 200 बिस्तरों की व्यवस्था की गई है, जिसमें ऑक्सीजन सिलेंडर की सुविधा के साथ काबिल डाक्टरों की टीम भी तैनात की गई है। कोविड सेंटर में फिलहाल कई कोरोना मरीज ईलाज की सुविधा ले रहे हैं।

यादव और गौड़ ने किया पूरा निरीक्षण

उपायुक्त यशपाल यादव एवं सीएम के राजनैतिक सचिव अजय गौड़ ने अचानक इस कोविड सेंटर का निरीक्षण किया। उन्हें अस्पताल का पूरा निरीक्षण करवाया और बताया गया कि किस तरह से यह कोविड सेंटर बेहतरीन तरीके से संचालित किया जा रहा है। इस मौके पर सीनियर डाक्टर प्रबल रॉय, सीनियर डाक्टर युवराज कुमार, डा. जितेंद्र कुमार, डीपीएस के चेयरमैन रोहित जैन, विवेक दत्ता एवं प्रशासनिक अधिकारी संदीप कुमार भी मौजूद थे। इन सभी ने श्री यादव व श्री गौड़ को कोविड सेंटर स्थापित करने का उददेश्य बताया। इस समय इस कोविड सेंटर में भर्ती मरीजों को बढिय़ा तरीके से ईलाज मुहैया करवाया जा रहा है।

फुल हैं फरीदाबाद के अधिकांश अस्पताल

बता दें कि जिस तरह से फरीदाबाद जिले में कोरोना के मरीज तेजी से बढ़े हैं, उसे देखते हुए जिले के अधिकांश सरकारी व प्राईवेट अस्पताल पूरी तरह से फुल हो चुके हैं। इन अस्पतालों में मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा है। यही नहीं बल्कि जिले का सबसे बड़ा कोविड सेंटर ईएसआई अस्पताल ने भी पिछले दिनों एक सूचना जारी कर दी कि अस्पताल में बैड उपलब्ध ना होने की वजह से नए मरीजों को एडमिट नहीं किया जाएगा। ऐसे वक्त में डीपीएस स्कूल द्वारा 200 ऑक्सीजन बैड के साथ कोविड सेंटर शुरू करना एक अच्छी और सुखद पहल है।

अजय गौड़ ने की प्रशंसा

सीएम के राजनैतिक सचिव अजय गौड़ ने भी इन प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस अस्थाई कोविड सेंटर से लोगों को काफी राहत महसूस हो रही है। इसके लिए वह कोविड सेंटर की पूरी टीम का आभार व्यक्त करते हैं। उन्होंने कहा कि वह फरीदाबाद के सभी लोगों से अपील करते हैं कि इस संकट की घड़ी में प्रत्येक व्यक्ति अपनी जिम्मेदारी को समझे। जितना संभव हो सके, वह पीडि़त और जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए आगे आएं। वह शहर की सभी सामाजिक धार्मिक संस्थाओं एवं औद्योगिक संस्थाओं से भी अपील करते हैं कि यह समय जरूरतमंद लोगों की सहायता करने का है। इसलिए सभी संगठन अपने स्तर पर सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here