कोरोना काल में आ रही है अच्छी खबर, सक्रंमण के बीच लगातार ठीक भी हो रहे हैं मरीज

0
- Advertisement -
Faridabad News (citymail News ) फरीदाबाद में कोरोना संक्रमण की प्रचंड लहर से हालात भले ही बेकाबू होते जा रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद अच्छी खबर यह है कि मरीज स्वस्थ होकर घर भी पहुंच रहे हैं। साथ ही समय पर इलाज लेने से होम आईसोलेशन वाले मरीज भी पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। दरअसल, अप्रेल के 27 दिनों में कुल 11933 कोरोना मरीज सामने आए, लेकिन उनमें से 9910 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और रिकवरी रेट में भी पहले की अपेक्षा सुधार हुआ है। रिकवरी रेट वर्तमान में 83.3 फीसदी पहुंच गया है। हालांकि अस्पतालों में एकदम से ऑक्सीजन की कमी वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है। इससे अस्पताल फुल हो गए हैं। ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ी है। ऑक्सीजन बेड नहीं होने से मरीजों को परेशानी हो रही हैं। हालांकि डॉक्टरों व मेडिकल स्टॉफ के मरीजों के लिए दिन-रात इलाज में जुटे रहने से मरीज स्वस्थ हो रहे हैं।
ऑक्सीजन व दवाईयों की कमी नहीं
ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के डीन डॉ. असीम दास बताते हैं कि अस्पताल में ऑक्सीजन व दवाईयों की कमी नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने बताया कि पहले की अपेक्षा जनरल वार्ड में भर्ती मरीज 8 से 10 दिन में ठीक हो जाता था, लेकिन अब 10 से 15 दिन में ठीक होने में लग रहे हैं। वहीं बीके अस्पताल के मेडिसीन के हैड डॉ. विनय गुप्ता की माने तो अस्पताल में बेडों की संख्या बढ़ाने पर काम चल रहा है। ऑक्सीजन लाइन डाली जा रही हैं कई बेडों पर ऑक्सीजन प्वाइंट बना दिए गए हैं वहीं तीसरी मंजिल पर भी बेड बढ़ाए जा रहे हैं। यह काम जल्द हो जाए। लेकिन अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती सभी कोविड मरीजों को ऑक्सीजन पर रखा है और उन्हें ठीक होने में समय लग रहा है। लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है।
इतने मरीज डिस्चार्ज (7 दिन)
तारीख  मरीज 
20 अप्रेल 478
21 अप्रेल  721
22 अप्रेल  965
23 अप्रेल  728
24 अप्रेल  934
25 अप्रेल  522
26 अप्रेल  592
27 अप्रेल 951 
लापरवाही से फरीदाबाद में फैला कोरोना
दिल्ली से नजदीक होने और लोगों की लापरवाही की वजह से फरीदाबाद जिले में कोरोना तेजी से फैला है। हमारे अस्पतालों में कोविड मरीजों को अन्य राज्यों की अपेक्षा बेहतर इलाज मिल रहा है। कहीं भी ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं हुई है। जहां कोरोना संक्रमण अपने चरम पर हैं वहां अच्छी बात यह है कि कोविड मरीजों के रिकवरी रेट में काफी सुधार हुआ है और मरीज तेजी से ठीक हो रहे हैं।
डॉ. असीमदास, डीन, ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं कोविड अस्पताल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here