फरीदाबाद में कम पड़ गए श्मशान घाट, दिन भर जल रही हैं चिताएं, धुंए और बदबू से परेशान लोगों ने किया विरोध

0
कैप्शन: प्रतीकात्मक चित्र
- Advertisement -
Faridabad News (citymail news) बुधवार को एनआईटी सैनिक कॉलोनी मस्जिद चौक के पास बने शमशानघाट में अचानक से लाशों की ज्यादा संख्या देख लोग भड़क गए। नगर निगम सुबह से लेकर दोपहर तक 15 लाशें जला चुका था जिससे आस पास काफी धुंआ और बदबू फैल गई। इससे परेशान होकर लोगोंं ने शमशानघाट के पास आकर विरोध किया। जिसके बाद नगर निगम ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर आकर मामला शांत कराया।
लोगों ने बताया कि नगर निगम शमशानघाट के अंदर लाशों को जलाने की बजाय बाहर पार्किंग जला रहा है क्योंकि अंदर जगह कम पड़ गई है। लोगोंं ने निगम की टीम से कहा कि इन लाशों को किसी दूसरी जगह भी जलाया जा सकता है।
कोराना संक्रमण के कारण मरने वालें लोगों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। कुछ दिन पहले भी एनबीटी ने एक खबर प्रकाशित की थी जिसमें तथ्य दिखाए गए थे कि हेल्थ विभाग कोरोना से मरने वालों की संख्या कम बता रहा है और नगर निगम के शमशान में कोरोना से मरने वालों का दाहसंस्कार ज्यादा संख्या में हो रहा है।
ये बात बुधवार को सच हो गई जब लोगों ने एनआईटी 3 मस्जिद चौक के पास बने शमशानघाट में ज्यादा लाशे जलते हुए देखी। स्थानीय निवासी रिंकू ने बताया कि बुधवार को सुबह से लेकर दोपहर तक एंबुलेंस में लाशे लाई जा रही है। शमशानघाट के अंदर जगह नहीं बची तो नगर निगम ने पार्किंग के अंदर ही लाशों को जलाने का सिलसिला शुरू कर दिया जिससे भारी मात्रा में धुंआ और बदबू आस पास के इलाकों में फैल गई। इससे परेशान लोगों ने शमशानघाट पर एकत्रित होकर इसका विरोध किया और कहा कि इन लाशों को किसी दूसरी जगह पर जलाया जाए। नगर निगम सीनियर सेनेटरी इंस्पेक्टर राजेंद्र दहिया ने बताया कि इस मामले की सूचना जैसे ही हमें मिली हमनें पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने मौके पर जाकर मामला शांत करवाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here