आखिर हरियाणा में सरकार चला कौन रहा है, फिर हुए फरीदाबाद में दो अधिकारियों के तबादले

0
- Advertisement -

फरीदाबाद में एक बार फिर से कई बड़े अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। डीसी यशपाल यादव के प्रशिक्षण पर जाने के बाद से फरीदाबाद में दो बड़े पद खाली पड़े थे, जिन पर सरकार ने अपने स्तर पर नियुक्ति की थी। डीसी के पद पर हुडा प्रशासक कृष्ण कुमार को अतिरिक्त तौर पर नियुक्त किया गया था, जबकि फरीदाबाद नगर निगम का प्रभार गुरूग्राम नगर निगम के कमिश्नर विनय प्रताप सिंह को दिया गया था। विनय प्रताप को यह चार्ज अतिरिक्त रूप से दिया गया था। मगर यह दोनों ही अधिकारी अपने अपने पदों पर नहीं आ पाए। इसके बाद एक बार फिर से नगर निगम और डीसी की पोस्ट पर दो अन्य अधिकारियों को लगाया गया है।

सरकार के पास अधिकारी ही नहीं

हैरत की बात है कि सरकार के पास अब इतने अधिकारी ही नहीं हैं कि उन्हें पूरी तरह से किसी भी पोस्ट पर नियुक्ति दी जा सके। इससे पहले सरकार ने नगर निगम फरीदाबाद के कमिश्नर यश गर्ग को गुरूग्राम का डीसी लगा दिया, मगर उनके जाने के बाद एमसीएफ के पास कोई कमिश्नर ही नहीं रहा। तब डीसी यशपाल यादव को निगम की अलग से जिम्मेदारी दी गई।

यादव गए तो फिर अधिकारियों का टोटा

जब यशपाल यादव टे्रनिंग पर गए तो उनके दोनों पदों के लिए सरकार को अधिकारी नहीं मिले। किसी तरह से जुगाड़ करके दो अधिकारी लगाए गए। वह अपना कार्यभार संभालते, उससे पहले दो नए अधिकारियों को डीसी और निगम कमिश्नर पद पर अतिरिक्त रूप से जिम्मेदारी दे दी गई।

आखिर कौन चला रहा है सरकार

मजे की बात तो यह है कि हरियाणा में किसी को ये पता ही नहीं कि आखिर सरकार चला कौन रहा है। किस अधिकारी की मर्जी पर तबादले हो रहे हैं। लोगों को भी इस कोरोना काल में सरकार की कार्यप्रणाली को लेकर काफी असमंजस हो रहा है। इस खबर में देंखे कि अब कौन अधिकारी करेंगे काम। लिस्ट अटैच है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here