फरीदाबाद के रणवीर सिंह हुड्डा पार्क की दुर्दशा देखकर बिफरे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा

0
- Advertisement -

Faridabad News (citymail News) फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सेक्टर-17 स्थित स्व. चौ. रणवीर सिंह हुड्डा पार्क का पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने निरीक्षण किया। इस दौरान पार्क की दुर्दशा देखकर पूर्व मुख्यमंत्री बिफर उठे। पार्क में टूटी सीढिय़ां, फैला कूड़ा और अन्य अव्यवस्थाओं पर नाराजगी जताते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने कहा कि देश को आजाद कराने में अपनी अह्म भूमिका निभाने वाले चौ. रणवीर सिंह हुड्डा के नाम पर इस पार्क का नामकरण हुआ था ताकि युवा पीढ़ी को प्रेरित किया जा सके, ऐसे महापुरूष के नाम पर रखे पार्क को फरीदाबाद प्रशासन द्वारा बेहतर तरीके से विकसित करना चाहिए था परंतु इसे देखकर ऐसा लगता है कि भाजपा सरकार महापुरूषों का सम्मान करना ही नहीं जानती, वह केवल वोट की राजनीति करके लोगों को गुमराह करती है।

उन्होंने कहा कि जब महापुरूषों के नाम पर रखे गए पार्काे की ऐसी दुर्दशा है तो भाजपाईयों की स्मार्ट सिटी फरीदाबाद का क्या स्वरूप होगा, इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। इससे पूर्व पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने स्व. रणवीर सिंह हुड्डा की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर फरीदाबाद आगमन पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता लखन कुमार सिंगला ने अपने समर्थकों सहित पूर्व मुख्यमंत्री श्री हुड्डा का स्वागत किया और उन्हें बताया कि वह कई बार प्रशासनिक अधिकारियों को इस पार्क की दुर्दशा के बारे में अवगत करवा चुके है, लेकिन इसके बावजूद इस पार्क के रखरखाव के लिए कोई कदम नहीं उठाए गए।

गौरतलब है कि रविवार को फरीदाबाद दौरे पर आए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने ललित नागर की माता विद्यावती के निधन पर शोक जताने के उपरांत स्व. रणवीर सिंह हुड्डा पार्क का दौरा किया था, जहां अव्यवस्थाओं को देखकर पूर्व मुख्यमंत्री का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया था। इस अवसर पर कांग्रेसी नेता वेदपाल दायमा, रेनू चौहान, पूर्व पार्षद अनिल शर्मा, रोहित सिंगला, बालकिशन वशिष्ठ, संदीप वर्मा, कपूरचंद अग्रवाल, बंटी ठाकुर, संतलाल, ओमप्रकाश पंडित जी, विजय भीमबस्ती, कर्मबीर खटाना, प्रवीन कुमार नीरज गुप्ता आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here