हरियाणा में बिजली बिलों की आड़ में जोरदार लूट, आम आदमी बुरी तरह से हुआ तंग, कांग्रेस ने भी की आलोचना

0
- Advertisement -
Faridabad News (citymail news ) बिजली विभाग द्वारा भेजे गए बिल की राशि से लगभग तीन गुना राशि मांगने से आम जनता में काफी नाराजगी है बिल जमा करने की आखिरी तारीख 1 अप्रैल है। बिजली विभाग की इस लूट व मनमानी से उपभोक्ता हैरान व परेशान हैं। आम जनता को सबसे ज्यादा नाराजगी जिले के सांसद व सभी विधायकों से है जो इस विषय पर पूरी तरह से मोन हैं और एक भी शब्द जनता के हित में नहीं बोल रहे हैं।
हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने बिजली बिल बढ़ोतरी की घोर निंदा करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल को उनके ट्विटर हैंडल पर *’पहले से ही परेशान उपभोक्ताओं को और न सताओ खट्टर जी, बिल में की गई भारी बढ़ोतरी को तुरंत वापस कराओ, उपभोक्ताओं को राहत पहुंचाओ’* ट्वीट करके आम जनता की आवाज को पहुंचाया है।’

मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा ने सभी एनजीओ, सामाजिक संस्थाओं व जागरूक लोगों से अपील की है कि वे इस ट्वीट को अधिक से अधिक रीट्वीट करें जिससे इस विषय पर मुख्यमंत्री के पास अधिक से अधिक उपभोक्ताओं की आवाज पहुंचे। हरियाणा अभिभावक एकता मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा ने केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा सहित सभी विधायकों, पार्षदों से इस विषय पर  तुरंत उचित कार्रवाई करने और मुख्यमंत्री से उपभोक्ताओं को राहत दिलाने की मांग की है।

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने भी बिजली बिलों में की गई इस बढ़ोत्तरी की आलोचना की है। सुश्री शैलजा ने एक टवीट के जरिए सरकार पर हमला किया है। उन्होंने कहा है कि हरियाणा में बिजली बिलों में भारी भरकम टैक्स जोडक़र भेजा रहा है। सरकार की नाकामियों से जनता पहली ही मंहगाई की मार झेल रही है और अब बिजली बिलों में यह टैक्स उनकी मुसीबतें बढ़ा रहा है। एक ही मीटर पर उपभोक्ताओं से कितनी बार सिक्योरिटी राशि ली जाएगी ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here