दिल्ली-एनसीआर में आए भूकंप के झटके, डर के मारे घरों से बाहर निकल आए लोग, राजस्थान व मणिपुर भी दहला

0
- Advertisement -

दिल्ली-एनसीआर सहित देश के कई हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप के झटके लगते ही लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। बताया गया है कि वीरवार की देर रात और शुक्रवार की सुबह करीब 2 बजे देश के कई हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप की तीव्रता 4.2 बताई गई है। इसका सेंटर गुरूग्राम से 48 किलोमीटर दूर साऊथ-वेस्ट बताया गया है। बता दें कि इससे पहले 2 दिसंबर को भी दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे, जिसका सेंटर गाजियाबाद था और भूकंप की तीव्रता 2.7 महसूस की गई थी। पिछले कुछ महीनों के भीतर ही दिल्ली-एनसीआर सहित देश के अनेक हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। वैसे भी दिल्ली-एनसीआर को भूकंप की दृष्टि से अति संवेदनशील माना जाता है। इस पूरे क्षेत्र को डार्क जोन में रखा गया है।

राजस्थान के इस शहर में भी लगे झटके-

दिल्ली के अलावा राजस्थान के सीकर में भी देर रात भूकंप के झटके से लोग बुरी तरह से डर गए। सीकर में भूकंप की तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 3.0 रिकार्ड की गई है। मौसम विभाग ने इसकी पुष्टि की है। विभाग के अनुसार इस भूकंप का केंद्र उत्तर और पूर्व दिशा में मापा गया है।

मणिपुर में भी भूकंप-

दिल्ली-राजस्थान के अलावा मणिपुर में भी भूकंप के झटके लोगों ने महसूस किए हैं। मौसम विभाग के अनुसार वीरवार की रात मणिपुर में यह झटके लोगों ने महसूस किए तो वह बुरी तरह से घबरा गए। इसकी तीव्रता रिक्एटर स्केल पर 3.2 मापी गई है। इसका केंद्र बिंदु मोईरंग मणिपुर से करीब 38 किलोमीटर दूर दक्षिण में रिकार्ड किया गया है। विभाग के अनुसार भूकंप आने का समय 10 बजकर 3 मिनट पर रिकार्ड किया गया है। इसकी गहराई सतह से 36 किलोमीटर बताई गई है।

डार्क जोन-4 में है दिल्ली-एनसीआर-

बता दें कि भूकंप को लेकर दिल्ली-एनसीआर को डार्क जोन-4 घोषित किया जा चुका है। मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि दिल्ली की स्थिति को देखते हुए अनुमान लगाया जा सकता है कि इस क्षेत्र में 7.9 तीव्रता तक का भूकंप आ सकता है। दिल्ली के साथ लगते इलाके भूकंप के अंतर्गत बेहद ही संवेदनशील माने जा रहे हैं। इन इलाकों में प्रमुख तौर पर यमुना तट के साथ बसे इलाकों को गिना जाता है। जिनमें प्रमुख तौर पर शाहदरा, पूर्वी दिल्ली, लक्ष्मीनगर, मयूर विहार, गुरूग्राम, रेवाड़ी, नारनौल, फरीदाबाद, नोएडा व गाजियाबाद का नाम लिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here