कोविड वैक्सीन को लेकर शुरू हुई ट्रेनिंग, इस तरह से लोगों तक पहुंचाई जाएगी कोरोना की यह दवाई

0
- Advertisement -

पलवल के सिविल सर्जन ने बताया कि कोविड-19 के टीकाकरण के लिए सोमवार से शुरू किए गए दो दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रत्येक स्वास्थ्य कार्यकर्ता के लिए नियमों की व्याख्या की गई। बैठक में शामिल होने वाले पांच स्वास्थ्य कर्मचारियों की पलवल स्वास्थ्य विभाग की टीमों के 10 अधिकारियों ने भाग लिया। मीटिंग में तय किया गया कि प्रत्येक सत्र में सौ टीके लगाए जाएंगे, जबकि श्रमिकों में से एक को टीकाकार अधिकारी कहा जाएगा, अन्य चार को टीकाकरण अधिकारी कहा जाएगा।

उन्होंने बताया कि टीकाकरण अधिकारी एक प्रवेश द्वार पर उपस्थित होंगे जो पूर्वापेक्षा लाभार्थियों की जांच करेंगे और उन्हें स्थानांतरित करने की अनुमति देंगे। आगे इस बीच टीकाकरण अधिकारी कोविड पोर्टल पर अपने विवरणों का सत्यापन करने और टीकाकरण के बाद उन्हें टीकाकरण के लिए भेजने के लिए लाभार्थी 30 मिनट के लिए अवलोकन कक्ष में इंतजार करेंगे। अधिकारी उनके विवरण ऑनलाइन दर्ज करेंगे, जिसके बाद लाभार्थियों को अगले टीकाकरण अधिकारी के लिए अनुसूची का एक संदेश प्राप्त होगा और टीकाकरण अधिकारी तीन और चार को भीड़ प्रबंधन के लिए तैनात किया जाएगा और टीकाकरण कार्यक्रम के रोलआउट के लिए हमारे द्वारा तैयार किए गए टीकाकरण के बाद प्रतिकूल घटनाएं, प्रशासन हमें टीमों के लिए स्टाफ की एक सूची देगा, जिसमें दो सदस्य टीकाकार और प्रतिकूल प्रभाव अवलोकन कर्मचारी स्वास्थ्य विभाग के होंगे, जबकि शेष तीन होंगे।

प्रशासन द्वारा प्रदान किए जाने वाले प्रबंधन के लिए हम अपने कर्मचारियों को प्रशिक्षित कर रहे हैं और क्षेत्र के डॉक्टरों को प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराए गए कर्मचारियों को अगले सप्ताह प्रशिक्षित किया जाएगा, सिविल सर्जन डॉ. ब्रह्मïदीप ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग भी टीका सत्र स्थलों की पहचान करेगा। वर्धा के प्रवेश और निकास स्थलों को पानी की आपूर्ति और वाशरूम के साथ अलग-अलग हवादार विशाल बनाया जाएगा। सिविल सर्जन ने बताया कि कोविड-19 टीकाकरण के लिए जिला टास्क फोर्स की एक बैठक  आयोजित की जाएग, जिसमें साप्ताहिक अपडेट डिप्टी कमिश्नर को दिया जाएगा और साइटों पर सुरक्षित इंजेक्शन प्रथाओं और कोल्ड चेन प्रबंधन पर चर्चा की जाएगी। सिविल सर्जन ने बताया कि कोल्ड चैन मेन्टेन करने के साथ-साथ वैक्सीनेटर की किट में कुछ जरुरी दवाइयां होनी चाहिए जैसे की एड्रिनालिन, हाइड्रोकोर्टिसोन, नोर्मल सेलेने और वैक्सीनेटर को इनकी डोस का पता होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here