मौसम की चेतावनी, Delhi-NCR, हरियाणा व पंजाब में होगी बारिश, बढ़ जाएगा ठंड का प्रकोप

0

New Delhi । पहाड़ों में भारी बर्फबारी के चलते मैदानी इलाकों का तापमान तेजी से नीचे की ओर जा रहा है। इसकी वजह से लगातार ठंड भी बढ़ती जा रही है। लोगों में ठंड का असर साफ देखा जा सकता है। दूसरी ओर भारतीय मौसम विभाग ने देश के कई राज्यों में भारी पैमाने पर बारिश होने की चेतावनी जारी कर दी है। विभाग के अनुसार लक्षद्वीप, केरल और तमिलनाडू में इसी महीने भारी बारिश होने की घोषणा की है। विभाग ने समुद्र में जाने वाले मछुआरों को सलाह दी है कि वह मछली पकडऩे के लिए आगे ना जाएं, नहीं तो कोई भी बड़ी अनहोनी घटित हो सकती है। सीधे तौर पर कहा जाए तो मछुआरों को समुंद्र में ना जाने के निर्देश दिए गए हैं। मौसम विभाग ने कहा है कि कराईकल, दक्षिण-उत्तर केरल, माहे, दक्षिण तटीय आंध्रप्रदेश, लक्षद्वीप, दक्षिण-उत्तर तमिलनाडू और पांडुचेरी में भारी स्तर पर बारिश होने की संभावना बनी हुई है।

बता दें कि पहाड़ों पर बर्फबारी होने के चलते मैदानी इलाकों में ठंड का प्रकोप तेजी से बढ़ गया है। बर्फबारी की वजह से हर रोज तापमान में भी गिरावट होने लगी है। माना जा रहा है कि आने वाले कुछ दिनों में मैदानी इलाकों में बारिश भी हो सकती है, जिसके बाद ठंड में और अधिक इजाफा हो जाएगा। कहा गया है कि कुछ दिनों के भीतर ही सर्दी में और अधिक इजाफा होने का कारण बरसात होगी। दिसंबर के मौसम में बारिश होने की वजह से ही सर्दी में बढ़ोतरी होना तय है। दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, मध्यप्रदेश व उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में बारिश होने की संभावना बनी हुई है। बारिश होने की वजह से इन राज्यों में ठंड का प्रकोप बढ़ जाएगा।

वहीं दूसरी ओर मौसम विभाग ने कहा है कि 4 दिसंबर को चक्रवाती तूफान दक्षिण तमिलनाडू को पार करते हुए कन्याकुमारी और पामबन क्षेत्रों से निकलेगा। इसके चलते ही मछुआरों को समुद्री इलाकों से दूर रहने की सलाह दी गई है। इन हालात को देखते हुए तूफान व बारिश प्रभावित राज्यों के अधिकारियों की एक आपात बैठक भी हुई है। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई बैठक में विकट हालातों से निपटने पर गहन वार्ता भी हुई। इन राज्यों की सरकारें किसी भी आपात स्थिति से निपटने की तैयारियों में जुट गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here