नींद के लिए दें वोट, दोपहर में एक घंटे की पावर नैप के लिए मुझे मुख्यमंत्री बनाएं

0
- Advertisement -

समय के साथ—साथ नेता और उनके चुनावी घोाषणापत्र भी अपडेटडेड हो गए हैं. जी हां, गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए एक पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में दोपहर की नींद को अनिवार्य करने का मुद्दा बनाया है. गोवा के लोग दोपहर में 1 घंटे की नींद अवश्य लेते हैं. इसी को देखते हुए यहां की राजनीतिक पार्टी के नेता विजय सरदेसाई ने कहा कि अगर मैं मुख्यमंत्री बन गया तो सभी लोग निश्चिंत होकर 1 घंटे सो सकते हैं. आॅफिस में काम करने वाले लोगों के लिए भी ये नियम लागू होगा.

गोवा में 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं लेकिन चुनावी वादे 2020 में ही किए जा रहे हैं. लोगों को झपकी देने का वादा करने वाले विजय सरदेसाई गोवा पॉलिटिकल पार्टी के अध्यक्ष हैं. सरदेसाई की पार्टी अभी राज्य सरकार का हिस्सा है. गोवा के लोगों को दिन में 1 घंटे का आराम जरूरी सा लगता है. ‘दोपहर की छपकी’ (Siesta hour) की उपयोगिता को देखते हुए विजय ने कहा कि आॅफिस में काम करने वाले लोग भी मेरी सरकार आने के बाद 1 घंटे सो सकते हैं. अब देखना है नींद का लालच देकर विजय जी​त हासिल कर पाते हैं या नहीं. वैसे देखा जाए तो ये आॅफर खराब़ नहीं है.

गोवा का नाम सुनते ही दिमाग में बीच और रिलैक्स ही आता है. गोवा के ​लोग रिलैक्स के सा​थ ज़िंदगी बिताना पसंद करते हैं. वहां के लोग दोपहर में 1 घंटे की पावर नैप के बिना कोई काम नहीं करते हैं. गोवा के अलावा चीन और अमेरिका में भी ‘पावर नैप’ का नियम है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here