नहीं रहे मसालों के किंग धर्मपाल गुलाटी, हार्ट अटैक से हुआ निधन

0
- Advertisement -

मसालों की दुनिया में मशहूर एमडीएच के मालिक धर्मपाल गुलाटी ने 98 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली. ​वह पिछले एक सप्ताह से बीमार थे. उनके निधन पर केजरीवाल से लेकर राजनाथ सिंह तक ने दुख व्यक्त किया है. गुलाटी की मौत हार्ट अटैक के कारण हुई. कुछ समय पहले धर्मपाल कोरोना संक्रिमत हुए थे.
धर्मपाल गुलाटी की पत्नी

मसालों के किंग के नाम से मशहूर धर्मपाल का जन्म पाकिस्तान के सियालकोट में 1923 में हुआ था. धर्मपाल का पढ़ाई—लिखाई में जब मन नहीं लगा तो वह अपने पिता के मसाले बिजनेस में हाथ बटाने लगे. यहीं से शुरू हुआ उनका मसालों के प्रति रूचि. भारत—पाकिस्तान के विभाजन के बाद धर्मपाल अमृतसर पहुंचे. यहां से उन्होंने दिल्ली की तरफ कूच किया और करोल बाग में अपने मसाले का पहला स्टोर खोलकर लोगों को मसाले का स्वाद चखाने लगे. यही से शुरू हुआ एमडीएच का कारोबार. आज देश से लेकर विदेश तक एमडीएच के मसाले मशहूर है. देश के तीसरे सबसे बड़े सम्मान पद्म भूषण से सम्मानित होने वाले धर्मपाल अपने वेतन का 90 प्रतिशत हिस्सा दान कर देते हैं.

समाजिक कार्यों में सक्रिय रहने वाले गुलाटी ने अस्पताल और स्कूल भी खुलवाए हैं. इनके संघर्ष की कहानी सभी के लिए प्रेरणादायक है. 98 वर्ष की उम्र में भी वह फैक्टरी जाते थे. उनकी पत्नी लीलावती का निधन 28 साल पहले 1992 में हो गया था. वह आखिरी समय में अपने पोते के परिवार के साथ रहते थे. उनकी छह बेटियां है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here