188 साल के बुजुर्ग कछुए ने भी देख लिया कोरोना का प्रकोप

0
- Advertisement -

कछुआ तो आपने बहुत देखा होगा लेकिन आज जिस कछुए की बात हो रही है, वह दुनिया का सबसे बुजुर्ग कछुआ है. इस कछुए की उम्र 188 साल की है. जोनाथन नाम के इस कछुए की तस्वीर भारतीय वन सेवा अधिकारी परवीन कासवान ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर शेयर की है.


परवीन कासवान ने अपने ट्वीट में बताया है कि ये कछुआ 1832 में पैदा हुआ था. कछुए ने दो विश्वयुद्ध भी देख लिए हैं. इसने अमेरिका के 39 राष्ट्रपति का शपथ समारोह देखा है. इतना ही नहीं रूस क्रांति भी इसी के सामने हुई है. कोरोना भी देख लिया इस कछुए ने. कासवान ने ट्वीट में जिक्र किया कि कोरोना आपदा भी जल्दी खत्म हो जाएगा. ये कछुआ साउथ अटलांटिक महासागर में ब्रिटेन के सेंट हेलेना टापू पर अपनी ज़िंदगी बिता रहा है. इस कछुए की उम्र का पता लंदन के मशहूर क्लॉक टावर बिग बेन और आइफिल टावर से लगाया गया है. परवीन कासवान ने 2013 में ट्विटर ज्वाइन किया था. इनके ट्वीटर पर 230.3 हजार फॉलोअवर्स हैं.

इस कछुए का नाम गिनिज़ बुक में भी दर्ज किया गया है. वैज्ञानिक इस कछुए का प्रयोग शोध के लिए भी कर रहे हैं. वैज्ञानिक इसकी लंबी उम्र का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. कछुआ पृथ्वी पर सबसे ​अधिक जीने वाला जीव है. बताया जाता है कि कछुआ 150 वर्ष से भी अधिक जीता है. कछुए का विकास सतत होता रहता है इसलिए ये लंबे जीते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here