पिता बेचते थे दुध, बेटा पीसीएस पास कर बना अधिकारी, पिता बोले दूर होगी परेशानी

0
image source by dainik bhaskar
- Advertisement -

New Delhi: हर माता-पिता का सपना होता है कि उनके बच्चे पढ़-लिखकर ऐसा मुकाम हासिल करे। जिससे उनके जीवन में हमेशा के लिए खुशहाली बनी रहे। आज बात ऐसे ही एक पिता की जिसने अपनी जवानी के दिनों में कड़ी मेहनत की। साइकिल पर दुध लादकर मार्केट में एक दुकान से दूसरी दुकान पर दूध बेचते रहे। और जो पैसा मिलता उसे अपने बच्चों की पढ़ाई में लगा दी। आज उसका फल भी इस पिता को मिला है। उनका बेटा विपिन शिवहरे यूपी पीसीएस परीक्षा पास कर एक अधिकारी बन गया है। जिससे शिवहरे के पिता व उनके गांव के लोग भी काफी खुश है। फिलहाल विपिन शिवहरे मौजूदा समय में भोपाल के एजी ऑफिस में ऑडट अफसर के पद पर तैनात है। शिवहरे ने साल 2018 पीसीएस के परिणाम में चौथा रैंक हासिल किया था।

यहां के रहने वाले हैं विपिन के परिवार

विपिन के पिता किसान होने के साथ दुध बेचने का काम करते हैं। वह परिवार संग थाना क्षेत्र अमीटा के रहने वाले हैं। विपिन बताते हैं कि उनका एक भाई लेखपाल है., तो तीसरे भाई और छोटी बहन भी अब सीविल की तैयारी कर विपिन जैसे ही अधिकारी बनना चाहते हैं। विपिन के पिता चेतराम कहते हैं कि बच्चों को पढऩे-लिखने में कोई दिक्कत नहीं होने दी हैं। जब लोग अपने बच्चों को बड़ी-बड़ी गाडिय़ों से स्कूल छोडऩे जाते थे। वह साइकिल पर दुध बेचा करते थे। जिससे ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाकर अपने बच्चों की पढ़ाई में लगा सके। उन्होंने कहा कि हमें खुशी है कि अब हमारी सारी परेशानी दूर हो जाएगी। उन्होंने कहा कि मेरी पत्नी कुसुम देवी ने संघर्ष के दिनों में मेरी काफी सहायता की है। बच्चों को स्कूल ले जाना व घर चलाने का सारा काम उन्होंने बिना किसी शिकायत के किया।  source by dainik bhaskar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here