केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों को लेकर छात्र व अभिभावकों से सुझाव मांगे,कब और कैसे हों परीक्षाएं

0
- Advertisement -
New Delhi । सीबीएसई की कक्षा 10 व 12 वीं की बोर्ड परीक्षा 2021 की तारीखों को लेकर बढ़ती अटकलों के बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों से विचार लेने के लिए एक अभियान शुरू किया गया है कि अगले वर्ष बोर्ड परीक्षा कब और कैसे आयोजित की जाएं।
परीक्षाओं को मई 2021में कराया जाए-
ऑल इंडिया पेरेंट्स एसोसिएशन आईपा ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री को भेजे गए अपने सुझाव में कहा है कि कोरोनोवायरस के चलते  स्कूल बंद होने के कारण बाधित हुई पढ़ाई को देखते हुए 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को मई 2021में कराया जाए और अन्य कक्षाओं के विद्यार्थियों को बिना किसी घरेलू बोर्ड परीक्षा के अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया जाए। आईपा ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री व चेयरमैन सीबीएसई को पत्र लिखकर कहा है कि इससे विद्यार्थियों को परीक्षाओं की तैयारी के लिए और अधिक समय मिल जाएगा। इसके  अलावा अन्य कक्षाओं के विद्यार्थियों को, जिन्होंने ऑनलाइन पढ़ाई की है या नहीं  उन सभी को अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया जाए। आईपा ने अपने पत्र में यह भी मांग की है कि आगामी शिक्षा सत्र जुलाई 2021 से शुरू किया जाए।

देश भर के स्कूल मार्च 2020 से ही बंद हैं-
आईपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश शर्मा व आईपा हरियाणा के प्रदेश महासचिव डॉ मनोज शर्मा ने कहा है कि कोरोना वायरस के चलते देश भर के स्कूल मार्च 2020 से ही बंद हैं। बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई तो चल रही है लेकिन उससे विद्यार्थियों को कोई विशेष फायदा नहीं हो रहा है। संसाधनों की कमी के चलते काफी छात्र ऑनलाइन पढ़ाई भी नहीं ले पा रहे हैं। अतः सभी छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों को आगे बढ़ाना बहुत जरूरी है।
बोर्ड परीक्षाओं की तारीख बदलनी बहुत जरूरी है-
 कैलाश शर्मा ने कहा है कि अधिकांश छात्रों को कोर्स व प्रश्नपत्रों में किए गए बदलावों की जानकारी नहीं है अतः बोर्ड परीक्षाएं कराने से पहले कोर्स व बोर्ड परीक्षा पैटर्न में किए गए बदलाव के बारे में सभी विद्यार्थियों को जागरूक करना बहुत जरूरी है। बढ़ते कोरोना को चलते स्कूलों को बंद कर दिया गया है आगे भी हालात सही नहीं रहने की भविष्यवाणी की गई है  अतः बोर्ड परीक्षाओं की तारीख बदलनी बहुत जरूरी है यानी मई में बोर्ड परीक्षाएं आयोजित की जायें और आगामी शिक्षा सत्र जुलाई 2021 से शुरू किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here