कोरोना पीडि़तों को मोदी सरकार देगी 1.30 लाख रुपए, इसमें है कितनी सच्चाई, जानिए पूरा मामला

0
- Advertisement -

New Delhi News (citymail news) कोरोना वायरस व लॉकडाऊन की वजह से देश में लोगों की माली हालत काफी खराब होती दिखाई देने लगी है। हजारों-लाखों लोगों की नौकरी पर संकट के बादल छाए हुए हैं। ऐसे में उन लोगों को और अधिक दिक्कत का अनुभव झेलना पड़ सकता है, जिनके परिवार में बीमारी व स्वास्थ्य की काफी अधिक परेशानी हैं। ऐसे में कुछ ऐसे भी लोग हैं, जोकि लोगों की मजबूरी का लाभ उठाकर जनमानस को भ्रमित कर रहे हैं। इन स्थितियों में सोशल मीडिया पर चल रही खबरों में दावा किया जा रहा है कि 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को सरकार कोरोना के लिए आर्थिक रूप से सहायता देने जा रही है।

क्या ये सच है या फिर झूठ-

ऐसी खबरों में कहा जा रहा है कि सरकार कोरोना पीडि़तों को 1 लाख 30 हजार रुपए की आर्थिक सहायता देने जा रही है। ऐसी ही अनेक खबरों को लेकर लोग असमंजस की स्थिति में हैं। उन्हें यह समझ नहीं आ रहा है कि ये खबर सच है या फिर झूठी। लेकिन सिटीमेल न्यूज ने ऐसी ही एक खबर को लेकर जब पीआईबी पर चैक किया तो यह खबर पूरी तरह से फेक साबित हुई। बता दें कि ऐसी ही झूठी खबरों को लेकर केंद्र सरकार लोगों को जागरूक करने के अभियान में लगी है। इसके लिए सरकारी एजेंसी पीआईबी के जरिए लोगों को सच और झूठी खबरों से सतर्क किया जा रहा है।

पीआईबी फैक्ट चैक ने बताई असलियत-

पीआईबी फैक्ट चैक ने इस खबर को पूरी तरह से फर्जी बताया है, साथ ही यह संदेश भी दिया है कि इस तरह की खबरों से सतर्क रहने की जरूरत है। व्हाट्सअप पर चल रहे इस मैसेज को गलत बताते हुए पीआईबी ने एक टवीट के जरिए कहा है कि भारत सरकार ने ऐसी कोई भी योजना नहीं बनाई है ना ही घोषणा नहीं की है । बता दें कि कोरोना काल व लॉकडाऊन के बाद से सोशल मीडिया पर अक्सर ऐसे वीडियो और न्यूज वायरल कर दी जाती हैं, जिनमें लोगों को आर्थिक मदद दिलाने का भरोसा दिलवाया जाता है। इस तरह के मैसेज देखकर लोग आवेदन करते हैं और अपने आधार कार्ड नंबर, बैंक डिटेल और पर्सनल जानकारियां सांझा कर देते हैं। जिसके बाद देखते ही देखते आपका बैंक खाता साफ हो जाता है।

पीआईबी करती है लोगों को सतर्क-

पीआईबी समय समय पर लोगों को ऐसे फेक मैसेज के जरिए लोगों को सतर्क करने की मुहिम चलाता है और टवीटर के जरिए फेक न्यूज के जाल में ना फंसने की अपील भी करता है। पिछले कुछ दिनों के भीतर ऐसे कई मैसेज वायरल हुए हैं, जिनके जरिए लोगों को ठग अपने जाल में फांस लेते हैं और उनसे उनकी खून पसीने की कमाई ठग कर ले जाते हैं। इसलिए लोगों से अपील है कि इस तरह के मैसेज से सावधान रहने की बहुत जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here