27 फिल्मों को पीछे छोड़ ‘जलीकट्टू’ ने मारी ऑस्कर के लिए एंट्री

0
- Advertisement -

इस बार ऑस्कर में भारत की तरफ से मलयालम फिल्म ‘जलीकट्टू’ को एंट्री मिली है. 93वें ऑस्कर पुरस्कार समारोह में इस फिल्म को बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म कैटेगरी के लिए नॉमिनेट किया गया है. इस फिल्म ने रेस में 27 फिल्मों को पीछे छोड़कर अपने लिए जगह बनाई है. जिन फिल्मों को इसने पीछे छोड़ा है उसमें बुलबुल, कामायाब, द स्काई इज़ पिंक, चिंटू का बर्थडे बिटरस्वीट, डिसिप्ल, शकुंतलम देवी, शिकारा, गुंजन सक्सेना, छपाक, AK vs AK, गुलाबो-सीताबो, भोंसले, छलांग, ईब अल्लू ओओ!, चेक पोस्ट, एटकन चटकन आदि. फिल्म का निर्देशन लीजो जोज़े पिल्लीस्सेरी ने किया है. टोरंटो और बुसान फिल्म फेस्टिवल में इसे दिखाया गया है. रिलीज़ सप्ताह में ही इस फिल्म ने 10 करोड़ की कमाई की थी. इस फिल्म की कास्ट भी बेहद दमदार है.

फिल्म की कहानी क्या है ?

चार अक्टूबर 2019 को रिलीज़ हुई इस फिल्म ने बेहद अच्छा प्रदर्शन किया है. फिल्म में वार्क और एंटनी नाम के शख्स एक कसाईखाना चलाते हैं, इस कसाईखाने में भैंसो को पहले मारा जाता है और फिर बेच दिया जाता है. एक दिन इस कसाईखाने से एक भैंस भाग जाता है और ​पूरे गांव के लोगों को परेशान कर देता है. आगे की कहानी आप फिल्म में देखें.

बता दें कि साल 2020 में जोया अख्तर की फिल्म ‘गली ब्वॉय’ को आॅस्कर के लिए नॉमिनेट किया गया था. लेकिन ये ऑस्कर लाने में असफल रही. अब देखना है ‘जलीकट्टू’ भारत के लिए ऑस्कर लाने में सफल होती है या नहीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here