कोरोना के चलते हरियाणा में नहीं लगेगा नाईट कफर्यू , सील होंगे दिल्ली व पंजाब के बार्डर, 6 जिलों में सख्ती

0
- Advertisement -

कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बैठक के बाद हरियाणा में कई नियमों को सख्ती से लागू करने का निर्णय लिया गया है। इसके अंतर्गत जहां विवाह समारोह में शामिल होने वाले मेहमानों की संख्या को सीमित करने के आदेश जारी दिए गए हैं, वहीं सरकार ने प्रदेश में नाईट कफर्यू लगाने से इंकार कर दिया है। सीएम ने साफ कहा है कि राज्य में फिलहाल नाईट कफर्यू और लॉकडाऊन लगाने की जरूरत नहीं है।

सील हो सकते हैं बार्डर-

हरियाणा के साथ लगते पंजाब एवं दिल्ली के बार्डर सील करने का निर्णय भी लिया जा सकता है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि कोरोना बीमारी पर अंकुश लगाने के लिए जहां सरकार द्वारा लोगों को जागरूक करने का अभियान चलाया जा रहा है, वहीं वह प्रदेश भर में एक करोड़ मास्क बंटवाएंगे। मुख्यमंत्री ने कोरोना के चलते किसान संगठनों से अपील की है कि वह दिल्ली में प्रदर्शन में शामिल होने के लिए ना जाएं। इसके अलावा सीएम ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। जल्द ही यह वैक्सीन बाजार में उपलब्ध होगी। उनके अनुसार सबसे पहले यह दवा हेल्थ वर्करों को दी जाएगी। यह वैक्सीन उम्र के हिसाब को देखकर भी दी जाएगी।

6 जिलों में अधिक है कोरोना-

सीएम मनोहर लाल ने कहा है कि राज्य में नाईट कफर्यू लगाने का कोई इरादा नहीं है। रात में भीड़ एकत्रित नहीं होती। इसलिए नाईट कफर्यू की जरूरत नहीं है। उनके अनुसार हरियाणा के 6 जिले कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित हैं, इनमें प्रमुख तौर पर गुरूग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक शामिल हैं। इसलिए सरकार ने इन सहित 6 जिलों में विवाह समारोह में 50 लोगों के इकठ्ठा होने की स्वीकृति दी है। इसके अलावा सरकार ने 25 और 26 नवंबर को हरियाणा व पंजाब तथा 26 तथा 27 नवंबर को दिल्ली के बार्डर पर सख्ती करने के आदेश जारी किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here