डा. अर्चना भाटिया के बाद कोरोना से अब डा. संतोष ग्रोवर का निधन, फरीदाबाद की 4 महिला डाक्टरों की हो चुकी है मौत

0

फरीदाबाद । कोरोना से एक और डाक्टर का निधन, फरीदाबाद से एक के बाद एक लगातार कोरोना से लड़ते हुए महिला डाक्टरों की मौत हो रही है। कुछ दिनों के भीतर ही फरीदाबाद में कोरोना से होने वाली महिला डाक्टर की यह दूसरी मौत है। एक खबर के अनुसार फरीदाबाद में कोरोना से जंग में अब तक चार डाक्टरों की मौत हो चुकी है। डा. अर्चना भाटिया के बाद फरीदाबाद शहर ने अब डा. संतोष ग्रोवर को भी खो दिया है। इससे डाक्टरों की सबसे बड़ी संस्था आईएमए को यह दूसरा बड़ा झटका लगा है। श्रीमति संतोष ग्रोवर के निधन से डाक्टरों में शोक की लहर दौड़ गई है।

डा. सतोष परिवार सहित करती थीं प्रेक्टिस-

बता दें कि डा. संतोष ग्रोवर फरीदाबाद के एनआईटी नंबर-3 में स्थित अशोक नर्सिंग होम में प्रेक्टिस करती थीं। बताया गया है कि डा. संतोष ग्रोवर को मरीजों का ईलाज करते वक्त कोरोना हो गया। प्रेक्टिस करते वक्त डा. संतोष ग्रोवर लगातार मरीजों की कोरोना से जंग में मदद करती रहीं। वह लगातार उन्हें कोरोना से उबरने के लिए प्रोत्साहित करती थीं तथा उनके बेहतर ईलाज में उनकी पूरी मदद भी कर रही थीं। लेकिन इस दौरान खुद वह कोरोना की चपेट में आ गई और आखिरकार वह कोरोना से लड़ते हुए खुद जंग हार गई। डा. संतोष ग्रोवर का शनिवार 21 नवंबर को निधन हो गया। डा. संतोष ग्रोवर के निधन से आईएमए सहित स्वास्थ्य के क्षेत्र से जुड़े सभी लोगों में दुख की लहर है।

अब तक 650 डाक्टरों की हो चुकी है मौत-

याद रहे कि इससे पहले करीब एक सप्ताह पूर्व ही फरीदाबाद शहर ने डा. अर्चना भाटिया को भी कोरोना के चलते खोया है। यहां बता दें कि देश भर में कोरोना के प्रकोप के चलते अब तक करीब 650 डाक्टर अपनी जान गवां चुके हैं। आईएमए के फरीदाबाद प्रभारी डा. सुरेश अरोड़ा ने बताया कि अब तक वह चार महिला डाक्टरों को खो चुके हैं। इनमें प्रमुख तौर पर अर्चना भाटिया, डा.रेनू गंभीर, डा. आभा सब्बरवाल और अब डा. संतोष ग्रोवर का नाम शामिल है। इन सभी के निधन पर आईएमए के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. राजन शर्मा, राष्ट्रीय सचिव डा. अशोकन, प्रदेश अध्यक्ष डा. प्रभाकर शर्मा, प्रदेश सचिव डा. विवेक मल्होत्रा और आईएमए की अध्यक्ष पुनीता हसीजा ने दुख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए यह बड़ी क्षति है, जिसकी पूर्ति होना असंभव है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here