बुरे फसे पति बेचारे, आरटीआई के जरिए बीवी जान सकेंगी पूरी सैलरी

0

महिलाएं अब पति की सैलरी बिना उनसे पूछे जान सकती हैं. सैलरी जानने के लिए महिलाओं को अब बस एक आरटीआई डालनी होगी और 15 दिन का इंतजार करना पड़ेगा. सरकार ने महिलाओं के हक में एक बड़ा फैसला सुनाते हुए कहा कि 15 दिन के अंदर संबंधित विभाग को पूरी सैलरी की जानकारी देनी होगी.

केंद्रीय सूचना आयोग को यह फैसला एक याचिककर्ता की शिकायत के बाद लेना पड़ा. दरअसल, जोधपुर की रहने वाली रहमत बानो ने आईटी विभाग से अपने पति की सैलरी की जानकारी मांगी थी, लेकिन उन्हें तीसरा पक्ष बताकर जानकारी देने से इंकार कर दिया गया. आयोग ने तीसरा पक्ष बताने वाले दावे को भी सिरे से खारिज किया. नए फैसले के मुताबिक, 15 दिन के अंदर सैलरी की पूरी जानकारी देना अनिवार्य हो गया है. गौरतलब है कि आयोग ने महिलाओं को पति की ग्रास सैलरी, टैक्सेबल इनकम तक की जानकारी रखने का हक दे दिया है.

इस फैसले का जहां कुछ लोग स्वागत कर रहे हैं कि वहीं कुछ पति कहे रहें है कि पुरुष हमेशा पीड़ित ही रहेगा. महिलाएं इस फैसले से बेहद खुश हैं. अब देखना है कि इस फैसले के बाद पति-पत्नी के झगड़े में कितनी गिरावट दर्ज की जाती है. इस फैसले से वह पति से सबसे ज्यादा दुखी होंगे जो अपनी बीवी को सही सैलरी बताने से हमेशा हिचकिचाते थे. सबसे अहम बात कितनी पत्नी आरटीआई दर्ज करके पति की सैलरी जानने में दिलचस्पी दिखाएंगी

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here