पढ़े: IPL और PSL में किसकी होती है ज्यादा कमाई

0

इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) नाम तो सुना ही होगा। अरे भैय्या वहीं आईपीएल जो आप इस बार घर में बैठकर परिवार के साथ देख रहे थे। वहीं आईपीएल जो भारत में नहीं बल्कि यूएई में आयोजित हुआ था। और वहीं आईपीएल जिसमें भाग लेने के लिए विदेशी खिलाड़ी कोराना काल में यूएई पहुंच गए थे। कभी आपने ये सोचा कि खिलाड़ी आखिर इतना रिस्क क्यों लेते हैं, तो हम आपकों बताते हैं कि इंडियन प्रीमियर लीग को इंडिय़न पैसा लीग कहे तो गलत नहीं होगा। अरे यहां तो एक खिलाड़ी की 10 से 15 करोड़ तक की बोली लगाई जाती है। खास बात यह है कि आईपीएल जीतने वाली टीम को 20 करोड़ रूपये दिए जाते हैं। वहीं उपविजेता को 12.50 करोड़ रूपये दिए जाते हैं। इस लीग की खासियत ज्यादा पैसा तो है ही साथ ही इस खेल में इंडियन व विदेशी खिलाडिय़ों का एक साथ खेलना भी लोगों को आकर्षित करता है।

वहीं आईपीएल की सफलता के बाद भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान ने भी आईपीएल की तर्ज पर पीसीएल कराया। लेकिन पीएसएल आईपीएल की तरह लोकप्रिय नहीं हो सका। हालांकि वहां भी विदेशी खिलाड़ी जाते हैं। लेकिन उन्हें भारत जितना पैसा पाकिस्तान से नहीें मिलता है और यहीं वजह है कि पीसीएल वक्त के साथ कम लोकप्रिय होता जा रहा है। इसके विपरीत आईपीएल पूरे विश्व में लोकप्रिय हो रहा है। आईपीएल जिसे देखने के लिए लाखों की तदाद में विदेशी मूल के दर्शक भारत आते हैं। पाकिस्तान में आयोजित पीसीएल जीतने वाली टीम को महज 3.50 करोड़ रूपये मिलते हैं। वहीं उपविजेता टीम को 1 करोड़ 43 लाख रूपये। आईपीएल जिसकी शुरूआत साल 2008 में हुई थी। वहीं पीएसएल की शूरूआत साल 2015 में हुई। पाकिस्तान ने पीएसएल इसलिए शुूरू किया था, क्योंकि भारत में पाकिस्तान मूल के खिलाड़ी के खेलने पर पाबंदी लगा दी थी।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here