मेट्रो अस्पताल को लेकर चल रहा विवाद खत्म, डा. बंसल की हुई विदाई, अब डा. लाल के पास रहेगा मालिकाना हक

0

Faridabad News । देश के कई बड़े पुरस्कारों से नवाजे जा चुके डा. पुरूषोत्तम लाल और मेट्रो अस्पताल के सर्वेसर्वा रहे डा.एस.एस. बंसल के बीच का विवाद अब समाप्त हो गया है। दोनों के बीच फरीदाबाद के इस कमाऊ अस्पताल को लेकर लंबे समय तक विवाद चला आ रहा था। एक दूसरे के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ रहे डा. पुरूषोत्तम लाल ने अब मेट्रो अस्पताल को अपने अधीन ले लिया है। उन्होंने सारा हिसाब किताब करने के बाद डा. बंसल को मेट्रो अस्पताल से विदा कर दिया है।

कई सौ करोड़ रुपए के इस हिसाब किताब के बाद फरीदाबाद का मेट्रो अस्पताल अब पूरी तरह से डा. पुरूषोत्तम लाल के पास रहेगा। बता दें कि डा. पुरूषोत्तम लाल ने डा. एस.एस. बंसल के साथ इस अस्पताल को शुरू किया था। यह अस्पताल बहुत तेजी से चला और फरीदाबाद के कई दूसरे बड़े प्राईवेट अस्पतालों को टक्कर देते हुए बहुत आगे पहुंच गया था। लेकिन सालों तक मेहनत करने के बाद आखिरकार दोनों के बीच विवाद पैदा हो गया। चूंकि दोनों ही डाक्टर अपने राजनैतिक व प्रशासनिक रूतबे के लिए जाने जाते हैं तो इसलिए उनके बीच का यह झगड़ा लंबा चलता रहा। आखिरकार पिछले दिनों सरकारी स्तर पर हस्तक्षेप के बाद डा. लाल व डा. बंसल के बीच बैठक हुई।

इस बैठक में ऑफ द रिकार्ड सरकार के मंत्री भी शामिल थे। उनकी मौजूदगी में ही दोनों डाक्टरों का विवाद व हिसाब किताब हुआ और अंत में डा. लाल ने मेट्रो अस्पताल को अपने अधीन ले लिया। बता दें कि देश भर में मेट्रो अस्पताल के नाम से डा. लाल के 12 अस्पताल हैं। मेट्रो के नाम से पहला हार्ट स्पेशलिस्ट अस्पताल नोएडा में स्थापित किया गया था। इसके बाद डा. लाल ने धीरे धीरे चिकित्सा क्षेत्र में अपना रूतबा और अस्पतालों की श्रृंखला को स्थापित करने में खासी मेहनत की। इसके चलते ही डा. पुरूषोत्तम लाल को पदमभूषण, पदम विभूषण एवं डा. बीसी राय पुरूस्कार भी मिले हैं। मंगलवार को डा. लाल ने फरीदाबाद स्थित मेट्रो अस्पताल में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया। इस प्रेसवार्ता में उन्होंने मेट्रो अस्पताल को लेकर औपचारिक तौर पर बयान जारी किया और कहा कि अब से अस्पताल के सभी विवाद समाप्त हो गए हैं और यह अस्पताल सीधे तौर पर उनके अधीन आ गया है। उन्होंने यह भी कहा कि भविष्य में अस्पताल से जुड़ी सुविधाओं में बढ़ोतरी की जाएगी। कई सस्ती चिकित्सा सुविधाएं भी मरीजों के लिए उपलब्ध करवाई जाएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here