कुछ घंटों में Delhi-NCR व हरियाणा सहित इन 7 राज्यों में होगी जोरदार बारिश, पहाड़ों पर बिछी बर्फ की चादर

0

Delhi । दीवाली के बाद से देश में मौसम का नया सिस्टम बन रहा है। मौसम की जानकारी बताने वाले स्कायमेट वेदर ने ताजा अनुमान जताया है कि देश के सात राज्यों के 70 शहरों में अगले दो दिन तक तेज हवाओं के साथ हल्की व मध्यम गति से बारिश होने की संभावना है। दीवाली के बाद बारिश का यह दौर आरंभ भी हो चुका है। इस बारिश के चलते देश में तापमान घटने की रफ्तार आरंभ होगी और सर्दी का दौर शुरू हो जाएगा। इसके साथ साथ देश में प्रदूषण से भी लोगों को राहत मिलेगी।

इन 7 राज्यों में होगी बारिश-

मौसम विभाग के अनुसार तेज हवा और बारिश की वजह से प्रदूषण से लोगों को छुटकारा मिल सकता है। जिन 7 राज्यों में बारिश आने की संभावना जताई जा रही है, उनमें दिल्ली, हरियाणा, मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, उत्तर प्रदेश एवं चंडीगढ़ प्रमुख रूप से शामिल हैं। स्कायमेट वेदर के अनुसार अगले चौबीस घंटों में दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, मध्यप्रदेश एवं पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश आने के आसार हैं। बता दें कि पिछले कई दिनों से दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, लुधियाना, पटियाला, करनाल, हिसार, सोनीपत, पानीपत, सिरसा, मेरठ, फरीदाबाद, गुरूग्राम, गाजियाबाद, पलवल और जयपुर में प्रदूषण की वजह से आसमान में धुंध छाई हुई है। बताया गया है कि अगले कुछ घंटों के दौरान आने वाली बारिश इस प्रदूषण वाली धुंध से लोगों को राहत प्रदान कर सकती है। बताया गया है कि एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में जम्मू-कश्मीर के करीब पहुंचता हुआ दिखाई दे रहा है। इस सिस्टम का प्रभाव यह होगा कि आने वाले कुछ घंटों में उपरोक्त राज्यों में बारिश होने की संभावना बन जाएगी।

दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा में हुई जोरदार बारिश-

दिवाली से अगले ही दिन यानि कि 15 नवंबर से लेकर 17 नवंबर तक मौसम विभाग द्वारा बारिश होने की चेतावनी जारी की गई थी। दीवाली जाते ही 15 नवंबर की शाम होते होते आसमान में बारिश वाले बादल छाने शुरू हो गए। देखते ही देखते कुछ देर में दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा सहित राजस्थान, पंजाब, मध्यप्रदेश व उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में जोरदार तरीके से बारिश आने लगी। इस बारिश का लाभ यह हुआ कि आसमान में प्रदूषण का स्तर तेजी से गिरने लगा। हालांकि दीवाली से पहले प्रदूषण नियंत्रण विभाग ने घोषणा की थी कि पटाखों के धुंए से देश में प्रदूषण के स्तर पर बहुत अधिक बढ़ोतरी होगी। यह अनुमान सटीक साबित हो सकता था, यदि बारिश ना आती। बारिश आते ही जहां प्रदूषण के स्तर में एकाएक गिरावट आ गई, वहीं मौसम में ठंडक भी बढ़ गई। स्कॉयमेट वैदर के अनुसार आने वाले दो दिनों में और भी बारिश होने की संभावना है।

पहाड़ों पर बिछ गई बर्फ की चादर-

मैदानी क्षेत्र में जहां बारिश हो रही है, वहीं पहाड़ी इलाकों में बर्फ की चादर बिछ गई है। इससे मौसम सुहावना हो गया है और पर्यटक इस स्नोफॉल का जमकर लुफ्त उठा रहे हैं। हिमाचल प्रदेश व उत्तराखंड के पहाड़ी इलाके इन दिनों बर्फ की चादर से गुलजार हो गए हैं। जम्मू कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, गिलगिल बालिस्टान और उंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश के साथ साथ हिमपात भी होने लगा है। इससे मौसम का तापमान तेजी से गिरावट की ओर जाएगा और सर्दी बढ़ जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here