मौसम विभाग का अलर्ट, Delhi-NCR व हरियाणा के इन इलाकों में होगी भारी बारिश , नीचे आने लगा है पारा

0

weather Alert – मौसम विज्ञानियों ने इस बार देश में अधिक ठंड होने का अनुमान जताया है। नवंबर महीने में ठंड का असर बढ़ता हुआ देखा जा रहा है। मौसम विभाग आईएमडी के अनुसार जल्द ही बारिश होने की संभावना है, जिसके बाद ठंड में इजाफा हो जाएगा। विभाग के अनुसार जल्द ही कई इलाकों में बारिश हो सकती है। कहा गया है कि कहीं पर मध्यम बारिश होने के आसार हैं तो कई इलाकों में तेज गति से हवा भी चल सकती है। इससे मौसम में ठंड बढ़ जाएगी और लोगों को शीत लहर का अहसास होना शुरू हो जाएगा। मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि 15 और 16 नवबंर को दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा के अनेक इलाकों में बारिश होने की संभावना है। शीतकालीन मौसम की यह पहली बारिश होगी। वहीं अगले 5 दिनों के भीतर देश के अन्य हिस्सों में मौसम शुष्क रह सकता है।

औसत से नीचे आ गिरा है पारा-

आईएमडी के अनुसार देश के कई राज्यों में पारा औसत से नीचे आ गिरा है। इन राज्यों में प्रमुख तौर पर पंजाब, राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश सहित कई इलाके हैं, जहां लोगों को ठंड का अहसास होने लगा है। मौसम का अनुमान बताने वाली संस्था स्काईमेट वैदर की मानें तो अभी कई शहरों में बारिश होने की संभावना ना के बराबर है और मौसम पूरी तरह से सूखा रह सकता है।

पश्चिमी विभोक्ष सक्रिय हो सकता है-

विभाग के अनुसार पहाड़ों में जल्द ही पश्चिमी विभोक्ष सक्रिय हो सकता है। इसके सक्रिय होते ही 12 से 15 नवंबर तक उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में मौसम की स्थिति बदल जाएगी। इससे उत्तर पश्चिमी हवाओं की गति बढ़ सकती है। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इस सप्ताह के पहले दिनों में हवाओं की गति कम रहेगी और हवा की दिशा में परिर्वतन दिखाई दे सकता है। मौसम के इस परिवर्तन को देखकर कहा जा सकता है कि फिलहाल दिल्ली एनसीआर का मौसम प्रदूषित रहेगा। मौसम विभाग का अनुमान है कि दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा के अलावा तमिलनाडू, पांडुचेरी और कराईकल में कई स्थानों पर गरज के साथ बारिश हो सकती है।

हिमाचल प्रदेश में सूखा रहने की संभावना-

मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि हिमाचल प्रदेश में करीब 8 दिनों तक मौसम के साफ रहने की संभावना है। विभाग के अधिकारी मनमोहन सिंह ने अक्टूबर में न के बराबर बारिश हुई, जिससे कृषि कार्यों को कोई लाभ नहीं हो सका है। वहीं कहा जा रहा है कि बारिश ना होने से प्रदेश के किसानों की चिंता बढ़ गई है। वहीं विभाग के अनुसार दिल्ली-एनसीआर, चंडीगढ़, करनाल, अंबाला, हिसार, लुधियाना, पटियाला, अमृतसर,चुरू, श्रीगंगानगर, सहित उत्तर भारत के कई इलाकों में 15 नवंबर से पहले बारिश होने की संभावना बहुत कम है। राजस्थान के उत्तरी शहरों में भी तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here