Nikita Tomar case: महापंचायत के दौरान उग्र भीड़ पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

0

फरीदाबाद। गत दिनों हुई छात्रा निकिता तोमर की हत्या को लेकर बल्लभगढ़ स्थित दशहरा मैदान में सर्वसमाज की महापंचायत में भीड़ उग्र हो गई। महापंचायत शुरू होने के बाद नोरबाजी कर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगा दिया। गुस्साई भीड़ ने एक ढ़ाबे में भी तोडफ़ोड कर सूखे कचरे में आग लगा दी। ढ़ाबे में तोडफ़ोड के बाद हालात इतने बेकाबू हो गए कि पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ गया। इसमें दर्जनभर पुलिसकर्मियों सहित 35 लोग घायल हो गए। इस मामलें में पुलिस ने 30 लोगो को हिरासत में भी लिया है। महापंचायत के दौरान कुछ लोगो ने हंगामा करते हुए आरोप लगाया कि निकिता को न्याय दिलाने के लिए युवाओं को यहां बुलाया गया था, लेकिन यहां तो लोग व कुछ छ़टभैया नेता अपनी राजनिति चमका रहे है। गुस्साएं लोगो ने बल्लभगढ़ हाईवे फ्लाईओवर पर चढक़र जमकर कर नारेबाजी की। लोगो ने वहीं पर वाहनों को रोककर जाम भी लगाया। वहां पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने गुस्साई भीड़ को समझाने व रोकने को प्रयास भी किया लेकिन पुलिस संख्या कम होने की वजह से पुलिसकर्मी भी असफल रहे। हालात बेकाबू होते देख पुलिस की संख्या बढ़ाई गई और वहां से लोगो को हटाना शुरू किया गया। लोगो को साईड में करने के दौरान अज्जी कालोनी में बने एक मुस्लिम ढाबे को देखकर लोगो का गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया और ढाबे पर तोडफोड शुरू कर दी। हालात को काबू करने के लिए पुलिस को भीड़ पर लाठीचार्ज करना पडा़। इसमें कई लोग घायल भी हो गए उसके बाद भडक़ उठे और पथराव शुरू कर दिया। हाईवे स्थित खडें कई वाहन इसमें क्षतिग्रस्त हो गए।
पुलिस का कथन:
पथराव और हंगामें के दौरान हिरासत में लिए गए 30 लोगो में से दर्जनभर लोग गैरराज्यों के रहने वाले है। ये लोग पंचायत के दौरान बवाल करने के लिए वहां गए थे। हिरासत में लिए गए लोग एनसीआर,गुरूग्राम,यूपी,मेवात व नाएडा के रहने वाले है। ओपी सिंह, पुलिस आयुक्त फरीदाबाद
मुख्यमंत्री वर्जन
शांतिपूर्वक प्रर्दशन तो कोई भी कर सकता है। लेकिन कानून व्यवस्था को किसी को भी अपने हाथ में लेने का अधिकार नही है। ऐसा करने वालो के खिलाफ सख्ती से निपटा जाएगा। मनोहर लाल मुख्यमंत्री हरियाणा

महापंचायत में मांग
महापंचायत कर लोगो ने सरकार से मांग की निकिता को शहीद का दर्जा मिलने के साथ साथ पिडि़त परिवार को मुआवजा भी मिले। परिवार को मुआवजा भी मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here