गरीबों को उजाडऩे के विरोध में आम आदमी पार्टी ने किया परिवहन मंत्री के घर का घेराव, पुलिस से हुआ मुकाबला

0
फरीदाबाद। आम आदमी पार्टी ने किसानों के खिलाफ बनाए गए कृषि विधेयक एवं फरीदाबाद के खोरी में प्रवासी मजदूरों को उजाडऩे एवं आन्दोलन के दौरान किसानों पर किए गए लाठीचार्ज एवं दर्ज मुकद्दमों को वापिस लेने आदि मांगों को लेकर आज हरियाणा के परिवहन एवं खनन मंत्री मूलचंद शर्मा का घेराव किया।
इस मौके पर आप के हरियाणा प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद डा. सुशील गुप्ता ने प्रदेश सरकार पर बिना वैकल्पिक व्यवस्था किए झुग्गी-झोपडिय़ों को तोडऩे और किसान विरोधी काले कानून को लागू करने का आरोप लगाते हुए कहा कि फरीदाबाद नगर निगम एवं पर्यटन विभाग खोरी गांव के लोगों को उजाडऩे में लगे हैं। उन्होंने हरियाणा सरकार को किसान एवं मजदूर विरोधी बताते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी केन्द्र सरकार द्वारा बनाए गए तीनों कृषि कानूनों का संसद से सडक़ तक विरोध करती रहेगी। इससे पूर्व आम आदमी पार्टी प्रदेश के मुख्यमंत्री का घेराव कर चुकी है।
इस अवसर पर पार्टी के जिलाध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने कहा कि फरीदाबाद के खोरी गांव में बरसों से रह रहे प्रवासी मजदूरों को उजाडऩे का कड़ा विरोध किया। आम आदमी पार्टी की तरफ से खोरी गांव के झुग्गी-झोपड़ी वालों को हरसंभव मदद की जाएगी। बेशक हम यह मानते हैं कि हरियाणा सरकार को उत्तर प्रदेश एवं बिहार के प्रवासी मजदरों से नफरत है, मगर इसका मतलब यह तो नहीं गरीब-मजदूरों के पुनर्वास की व्यवस्था करे ही उनको उजाड़ दिया जाए।
वहीं बडखल विधानसभा अध्यक्ष तेजवंत सिंह उर्फ बिट्टू ने कहा कि बरोदा उपचुनावों में प्रदेश की जनता भाजपा को यह दिखा देगी गरीब, मजदूर एवं किसानों पर अत्याचार का क्या परिणाम होता है। केन्द्र की मोदी सरकार अडानी एवं अंबानी के लिए किसान कानून लेकर आई है। किसानों को बढ़ा हुआ एमएसपी भी नहीं मिल रहा है। मंडी व्यवस्था को खत्म करके, खेती में ठेका प्रणाली लागू करके किसानों को पंूजीपतियों का गुलाम बनाना चाहती है सरकार।  प्रदर्शनकारियों मुख्य रूप से आरएस राठी, ओमप्रकाश गुप्ता, प्रीति दीक्षित, दीपक जैन, जिला अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना, हरेन्द्र भाटी, अमन गोयल, विनोद भाटी, कुलदीप कौशिक, धर्मेन्द्र, संतोष यादव, विनय यादव, गीता शर्मा, नितिन राजपूत, रिजवान मोहम्मद, सलीम खान, अखिल सचदेवा आदि मौजूद शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here