फरीदाबाद के बाईपास रोड को चौड़ा करने के लिए सैक्टर 28 की तरफ तोड़े गए दर्जनों मकान

0

फरीदाबाद। नगर निगम के तोडफ़ोड़ दस्ते ने बुधवार को सैक्टर 28 की ओर बाईपास रोड पर दर्जनों मकानों को तोडऩे की कार्रवाई को अंजाम दिया। इस मौके पर किसी भी विरोध से निपटने के लिए भारी पुलिस फोर्स भी मौजूद थी। निगम के दस्ते ने कई जेसीबी मशीनों की सहायता से अवैध निर्माणों को हटाया है। बता दें कि दिल्ली बदरपुर बार्डर से सीधे झाडसैंतली पहुंचने के लिए यह बाईपास बनाया गया था। करोड़ों रुपए की लागत से बनाए गए इस बाईपास पर एक तरफ कच्चे मकान बनाकर काफी संख्या में लोग सालों से रह रहे थे।

पहले भी तोड़े गए थे काफी मकान-

बाईपास बनाते समय भी काफी संख्या में ये मकान तोड़े गए थे। इसके एवज में अनेक लोगों को बापू नगर में सरकार द्वारा बनाई गई आशियाना ईमारत में फ्लैट भी दिए गए थे। इसके बावजूद काफी अधिक संख्या में बाईपास पर यह मकान बचे हुए थे। इन लोगों को समय समय पर अपने मकान खुद ही हटाने के लिए कहा गया था। उनमें से अनेक लोग अपने मकान खाली करके वहां से चले भी गए थे। इसके बाद बुधवार को निगम के दस्ते ने वहां मकानों को तोडऩे का अभियान चलाया था। बाईपास की इस रोड को चौड़ा किया जाना है, ताकि जिस उद्देश्य को लेकर इसका निर्माण किया गया था, वह पूरा हो सके।

ताकि लोग कर सकें सुखद यात्रा-

सरकार ने बाईपास रोड का निर्माण इसलिए किया था कि जो लोग शहर के अंदर प्रवेश करने की बजाए सीधे पलवल, होडल, मथुरा व आगरा की ओर जाना चाहते हैं, वह इस बाईपास से यात्रा करें और बिना जाम में फंसे सीधे झाड़सैंतली पहुंचते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग पर पहुंच जाएं। मगर इन मकानों की वजह से यह उद्देश्य पूरी तरह से सफल नहीं हो पा रहा था। इसके चलते ही बुधवार को एक बार फिर से इन मकानों को हटाने की कार्रवाई की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here