हरियाणा के मेवात से धड़ाधड़ पकड़े गए 50 कुख्यात ईनामी बदमाश, पुलिस ने थपथपाई अपनी पीठ

0
Chandigarh News (citymail news) हरियाणा पुलिस ने जिला नूंह में इस वर्ष अपराधियों पर शिकंजा कसते हुए जहां एक ओर नशा तस्करों, अवैध हथियार रखने वालांे, एटीएम चोरी करने वालों आदि पर नकेल डालने में सफलता प्राप्त की है, वहीं दूसरी ओर एक जनवरी से लेकर अब तक 50 वांछित अपराधियों, जिन पर ईनाम घोषित था, को सलाखांे के पीछे भेजकर जिला को अपराध मुक्त बनाने में सफलता हासिल की है।
इस एसपी के नेतृत्व में मिली सफलता-
डीजीपी  मनोज यादव के मार्गदर्शन में नूंह जिला पुलिस ने पुलिस अधीक्षक नरेंद्र बिजारनियां के नेतृत्व में यह सफलता हासिल कर एक प्रकार से प्रदेश में कीर्तिमान स्थापित किया है। इस वर्ष 1 जनवरी से लेकर अब तक ना केवल नूंह पुलिस ने 46 ईनामी बदमाशों को पकड़ा है बल्कि पड़ौसी जिलों तथा राज्यों मंे वांछित 4 अपराधियों को पकड़कर वहां की पुलिस को सौंपा है। इसके अलावा, नूंह पुलिस ने नशा तस्करों व अवैध हथियार रखने वालों को भी सलाखों के पीछे भेजा है। पुलिस की इस कार्यवाही से अपराधियों में एक संदेश गया है कि अपराध करने वाले या तो अपराध छोड़ दें, नहीं तो उन्हें जेल की हवा खानी ही पडे़गी।
ये हैं शातिर उपराधी-
आंकड़े देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि पकड़े गए वांछित अपराधियों मंे 90 हजार रूपए तक के ईनामी बदमाश शामिल हैं। उन्होंने बताया कि एक अहमद नाम के अपराधी के खिलाफ हरियाणा, राजस्थान तथा उत्तरप्रदेश में विभिन्न स्थानांे पर 53 एफआईआर दर्ज थी, उसे नूंह पुलिस गिरफतार करने में कामयाब रही है। उस अपराधी पर क्राइम ब्रांच पंचकूला के अलावा राजस्थान के भिवाड़ी, भरतपुर तथा उत्तरप्रदेश के गौतमबुद्ध नगर में एफआईआर दर्ज थी और वहां की पुलिस को उसकी तलाश थी। इस पर 90 हजार रूपए का ईनाम घोषित था।
एटीएम उखाडऩे वाले भी धरे गए-
इसी प्रकार, एटीएम उखाड़ने तथा वाहनों की चोरी करने वाले अपराधियों पर भी नकेल डालने में  नूंह में पुलिस को अच्छी सफलता मिली है। उन्होंने बताया कि साजिद नाम के अपराधी पर एटीएम उखाड़ने तथा वाहन चोरी के 32 मामले दर्ज हैं, उसे नूंह पुलिस ने पकड़ा। एटीएम से चोरी करने के अपराध में श्योकत नाम के अपराधी के खिलाफ 15 एफआईआर, साहिब उर्फ सुज्जा के खिलाफ 15 एफआईआर, फारूख के खिलाफ 8 एफआईआर, तोफिक के खिलाफ 11 एफआईआर, इमरान के खिलाफ 6 एफआईआर, नरेश उर्फ नर्सी के खिलाफ 5 एफआईआर, एक दूसरे फारूख के खिलाफ भी मध्यप्रदेश के नीमच कैंट सहित एटीएम चोरी की 6 एफआईआर, जमशेद के खिलाफ 9 एफआईआर दर्ज हैं। जमशेद तो उत्तर प्रदेश के मथुरा तथा हरियाणा के रेवाड़ी जिला में वांछित अपराधी था। इसी प्रकार, पुलिस ने ऐसे एटीएम उखाड़ने या चोरी करने वाले 9 अपराधियों को हिरासत में लेने में कामयाबी हासिल की है। यही नहीं, पुलिस ने आजाद नामक अति वांछित (मोस्ट वांटिड) अपराधी को भी सलाखो के पीछे भेजा है।
दिल्ली पुलिस का वांछित अपराधी गिरफ्तार-
बिजारनियां ने बताया कि दिल्ली पुलिस का वांछित अपराधी रफसान को भी नूंह पुलिस ने गिरफ्तार किया जिस पर विभिन्न मामलों में 11 एफआईआर दर्ज हैं। साहिद उर्फ पोलो के खिलाफ 16 एफआईआर दर्ज हैं और उस पर 50 हजार रूप्ए का ईनाम था, उसे भी नूंह पुलिस ने हवालात में भेजा है। उन्होंने बताया कि इमरान देवला के खिलाफ 4 एफआईआर दर्ज हैं और उस पर हरियाणा पुलिस ने 25 हजार रूप्ए तथा नीमच (मध्यप्रदेश) पुलिस ने 50 हजार रूप्ए का ईनाम रखा हुआ था, वह भी नूंह पुलिस की गिरफत में आने से नहीं बच पाया।
 चोरी की मोटरसाइकिल, कार आदि भी की बरामद-
प्रवक्ता ने बताया कि नूंह पुलिस ने जनवरी से लेकर अब तक 43 मोटरसाईकिल, 2 कार, एक बलैरो जीप व एक ट्रक बरामद किया है। पुलिस अपने सभी कर्मचारियों की लग्न व निष्ठा से काम करने की वजह से यह सफलता हासिल कर पाई है। इसके अलावा भी जिला को अपराध मुक्त बनाने की दिशा में काम किया गया है।
 नशा तस्करों और अवैध असला रखने वालों पर भी कसा शिकंजा-
उन्होंने बताया कि इस दौरान नशा तस्करों, अवैध असला रखने वालों, लूट, स्नैचिंग, हत्या करने या हत्या का प्रयास करने के मामलों मंे वांछित अपराधियों की गिरफतारी भी की गई है। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार जनवरी से लेकर अब तक नूंह में पुलिस ने अवैध रूप से असला रखने के मामलों में 55 अभियोग दर्ज करके 58 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिनके कब्जे से एक पिस्तोल, दो मैगजीन पिस्टल, 56 देसी कट्टे, 73 जिंदा कारतुस, 42 खाली खोल व दो खुखरी बरामद किए हैं। इसके अलावा, एनडीपीएस एक्ट के तहत 24 अभियोग दर्ज करके 42 आरोपियों को गिरफतार किया गया है। इन आरोपियों से 1600 किलो से अधिक गांजा, 1 लाख 92 हजार एमएल प्रतिबंधित सिरप, 26 हजार नशे की गोलियां व लगभग ढाई किलो हीरोइन बरामद की है। यही नहीं, आबकारी अधिनियम के तहत नूंह पुलिस ने अवैध रूप से शराब की तस्करी करने व बेचने वालों के खिलाफ 114 अभियोग दर्ज करके 106 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनसे लगभग 15750 बोतल देसी शराब, 24907 बोतल अंगे्रजी शराब, 1016 बोतल बीयर, 206 लीटर कच्ची शराब, 10 हजार किलो लाहन व शराब बनाने वाली दो भट्ठी पकड़ी गई हैं। उन्होंने बताया कि जुआ अधिनियम के तहत भी 55 अभियोग दर्ज करके 151 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया जिनसे लगभग 4 लाख 61 हजार रूप्ए बरामद करके जब्त किए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here