फरीदाबाद में टूटी सडक़ों की वजह से हो रही हैं लोगों की मौत, लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन

0
Faridabad News (citymail news) शहर में टूटी हुई हार्डवेयर चौक से पाली चौक तक की रोड पर 26 तारीख को जिस सचिन नाम के युवक की मृत्यु हो गई थी एक्सीडेंट से उसके विरोध में  भारी मात्रा में नीरज शर्मा वर्तमान विधायक एनआईटी, वरुण श्योकंद, प्रोफेसर फोगाट, समाजसेवी बाबा राम केवल  , जितेंद्र चंदेलिया, ज्ञानेंद्र भारद्वाज , आकाश हंस, हर्ष विश्नोई, अभिषेक शर्मा, जसवंत पवार, व अन्य ने उपायुक्त फरीदाबाद सेक्टर 12 के दफ्तर जाकर सरकार और प्रशासन  की लापरवाही के विरुद्ध भारी रोष प्रकट किया और मुर्दाबाद के नारे लगाए, उनकी मांग थी कि दोषी  नगर निगम अधिकारियों के खिलाफ जल्द से जल्द मुकदमा दर्ज किया जाए।  श्योकंद कि मांग थी कि पीड़ित मृतक  इंजीनियर सचिन के घर वालों को उचित मुआवजा दिया जाए और इस रोड का निर्माण एक सप्ताह में जल्द से जल्द कराया जाए ऐसा ना करने पर वह हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे।
प्रशासन पर भ्रष्टाचार का आरोप-
वर्तमान विधायक  नीरज शर्मा  ने प्रशासन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि इस रोड को बनाने में नगर निगम ने भारी घोटाला किया है  और  इसमें उच्च स्तरीय जांच की मांग की। उन्होंने सार्वजनिक तौर पर कहा इस रोड को पेरिफेरी रोड में मिलाना ही एक बड़ा बड़ा भ्रष्टाचार है। धरना प्रदर्शन के दौरान मृतक के परिजन भी मौजूद थे उनके भाई कपिल शर्मा ने कहा कि उनके पिता जी का 10 साल पहले देहांत हो गया है, उनकी मां ने ही दोनों भाइयों को पढ़ा लिखा के इंजीनियर बनाया और उनका भाई ही घर का गुजर-बसर करता था आज उसका जन्मदिन भी था।
एसडीएम  ने 15 दिन का आश्वासन दिया –
 उपायुक्त फरीदाबाद की तरफ से एसडीएम  जितेंद्र  ने 15 दिन का आश्वासन दिया   और एडीसी सतवीर मान ने कहा कि वह जल्द से जल्द मुआवजा दिलवाएंगे और नगर निगम के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करवाएंगे। शहर की सड़कों पर आवारा पशुओं और गड्ढों को लेकर लापरवाही के लिए 6 विधायकों एक सांसद व भ्रष्ट निकम्मे लापरवाह अधिकारियों पर कठोर शब्दों का इस्तेमाल करते हुए अपनी नाराजगी दिखाई कहा कि जो इंसानी कीमत नहीं समझ रहे उन्हें न्यायालय के द्वारा कठोर दंड मिलना चाहिए । धरना प्रदर्शन कर रही भीड़ ने बड़ा रोष जताया कि अभी तक टक्कर मार कर  सचिन को कुचलने वाली गाड़ी का नंबर तक पुलिस को नहीं मिला,  तो शहर में इतने सारे CCTV कैमरे क्या सिर्फ चालान काटने के लिए लगाए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here