फरीदाबाद में अवैध टयूबवैल व R O प्लांट सील, टैंकर वाले हड़ताल पर, पानी की ब्लैक मार्केटिंग

0

Faridabad News (citymail news) एक तो चोरी ऊपर से सीनाजोरी, जी हां यह कहावत फरीदाबाद में अवैध रूप से पानी बेचने वाले टैंकर मालिकों पर फिट बैठ रही है। हाल ही में नगर निगम ने फरीदाबाद में बड़ी संख्या में अवैध रूप से चल रहे टयूबवेल व आर.ओ. प्लांट सील कर दिए। इससे गुस्साए टैंकर मालिकों ने हड़ताल कर दी। आर.ओ. प्लांट भी बंद हो गए। इसका नतीजा यह हुआ कि लोगों को ब्लैक में पानी खरीदना पड़ रहा है। तीन दिन से पानी की सप्लाई ना होने की वजह से लोगों को 10 रुपए वाली पानी की 20 लीटर की बोतल 20 से 25 रुपए में खरीदनी पड़ रही है। पानी की यह दिक्कत एनआईटी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को उठानी पड़ रही है। एनआईटी क्षेत्र के हजारों लोगों को यह पानी की समस्या का अधिक सामना करना पड़ रहा है।

सैंकड़ों की संख्या में हैं टयूबवेल व आर.ओ. प्लांट-

बता दें कि एनआईटी के अलावा बडख़ल क्षेत्र में भी अवैध रूप से सैंकड़ों की संख्या में टयूबवेल व आर ओ प्लांट लगे हुए हैं। जिनसे टैंकरों द्वारा पानी की उन इलाकों में सप्लाई की जाती है, जहां पानी की भारी किल्लत है। इन टैंकरों के जरिए ब्लैक में पानी बेचा जाता है। बडख़ल व एनआईटी क्षेत्रों से ये टैंकर दिल्ली तक पानी बेचते हैं। इससे पानी का लेवल तेजी से नीचे की ओर जा रहा है। ऐसी ही कुछ शिकायतों के आधार पर चंडीगढ़ से भी अवैध आर ओ प्लांट व टयूबवेल बंद करवाने के निर्देश जारी हुए हैं।

पानी की सप्लाई में दिक्कत-

एनआईटी व बडख़ल विधानसभा क्षेत्रों में नगर निगम पूरी तरह से पानी की सप्लाई नहीं कर पा रहा है। जिसकी वजह से ही ये टैंकर व टयूबवेल माफिया बड़ी संख्या में पैदा हो गए हैं। अब तो इन टैंकर व टयूबवेल माफियाओं के बिना जनता का भी गुजारा नहीं हो सकता। नगर निगम द्वारा लोगों को पानी नहीं दिया जा रहा तो उसकी एवज में ये टयूबवेल व टैंकर वाले लोगों की प्यास बुझा रहे हैं।

महिलाओं ने लगाया जाम-

पानी की किल्लत से परेशान डबुआ कालोनी व नेहरू कालोनी में रहने वाली महिलाओं ने बांगा चौक पर प्रदर्शन किया तथा पानी की सप्लाई ना होने पर रोष जाहिर किया। प्रदर्शन की जानकारी मिलते ही डबुआ पुलिस ने मौके पर पहुंचकर महिलाओं को शांत करवाया। पुलिस ने महिलाओं को समझाकर किसी तरह से जाम खुलवाने में कामयाबी हासिल की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here