परिवहन मंत्री ने पलवल में कहा, 50 लाख रुपए की गई शहीद सैनिक परिवारों को दी जानी वाली राशि

0


Palwal News (citymail news ) परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि आज हम अपने राष्ट्र का 74वां स्वतंत्रता दिवस मना रहे हैं। इस अवसर पर पलवल की ऐतिहासिक धरती पर तिरंगा फहराकर मुझे बड़े गर्व और खुशी का अनुभव हो रहा है। आजादी के इस पावन पर्व पर उन्होंने सभी को हार्दिक बधाई दी और सभी के सुख-समृद्धि की मंगल कामना की। परिवहन मंत्री ने देश की सीमाओं पर डटे जवानों को भी इस राष्ट्रीय पर्व की बधाई दी और समारोह में उपस्थित स्वतंत्रता सेनानियों का हार्दिक अभिनंदन किया।

  • पलवल में किया ध्वजरोहरण-

 मूलचंद शर्मा ने यह विचार शनिवार को स्थानीय नेताजी सुभाषचंद्र बोस स्टेडियम में जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में ध्वजा रोहण करने व परेड की टुकडियों का निरीक्षण कर जिलावासियों को दिए संदेश में व्यक्त किए। स्वतंत्रता दिवस समारोह में परिवहन मंत्री ने स्वतंत्रता सेनानियों तथा शहीदों के आश्रितों को शॉल भेट कर सम्मानित किया। उन्होंने शहीद स्मारक स्थल पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर शहीदों को नमन किया।

  • ज्ञात व अज्ञात शहीदों को नमन किया

उन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर करने वाले सभी ज्ञात व अज्ञात शहीदों को नमन किया। इसके साथ ही मंत्री ने उन बहादुर सैनिकों को भी सलाम किया, जिन्होंने आजादी के बाद देश की एकता व अखण्डता और सीमाओं की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। उन्हीं के बलिदानों के कारण आज हम आजादी की खुली हवा में सांस ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम अपने शहीदों के बलिदानों का कर्ज तो नहीं चुका सकते, लेकिन उनके परिजनों को कुछ सुविधाएं देकर उनके प्रति अपनी कृतज्ञता अवश्य दिखा सकते हैं। राज्य सरकार द्वारा स्वतंत्रता सेनानियों व उनकी विधवाओं को 25 हजार रुपये मासिक पेंशन दी जाती है। वीरगति को प्राप्त होने वाले सैनिकों के परिवारों को दी जाने वाली एक्स-ग्रेेसिया ग्रांट 20 लाख रुपए से बढ़ाकर 50 लाख रुपए की गई है। भूतपूर्व सैनिकों और उनकी विधवाओं को दी जाने वाली विभिन्न प्रकार की पेंशनों में बढ़ोतरी की गई है। वीरगति को प्राप्त होने वाले हरियाणा के शहीदों के 320 आश्रितों को सरकारी नौकरियां दी गई हैं।

  • वीरता पुरस्कार प्राप्त सैनिकों को मुफ्त यात्रा-

सेवारत सैनिकों, भूतपूर्व सैनिकों तथा उनके आश्रितों के सम्मान एवं कल्याण के लिए सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण विभाग का गठन किया गया है। वीरता पुरस्कार प्राप्त सैनिकों को राज्य परिवहन की सामान्य बसों में राज्य की सीमा के अंदर मुफ्त यात्रा सुविधा दी गई है। देश की शरहदों की रक्षा के लिए शहादत देने में भी हरियाणा के वीर हमेशा आगे रहे हैं। आज भी हमारी सशस्त्र सेनाओं में औसतन हर दसवां जवान हरियाणा से है। इस अवसर पर पलवल के विधायक दीपक मंगला, पृथला के विधायक नयनपाल रावत, जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर, उपायुक्त नरेश नरवाल, पुलिस अधीक्षक दीपक गहलावत, अतिरिक्त उपायुक्त वत्सल वशिष्ठï, एसडीएम पलवल कंवर सिंह, नगराधीश दिनेश, जिला सैनिक एवं अर्धसैनिक कल्याण विभाग पलवल के सचिव के.के. यादव, सिविल सर्जन डा. ब्रह्मïदीप, जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी डी.पी. कुलश्रेष्ठï, जिला परिषद की चेयरपर्सन आशावती, भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, जजपा जिलाध्यक्ष सुरेंद्र, भाजपा महामंत्री पवन अग्रवाल, मुकेश सिंगला, पूर्व विधायक रामरत्न सहित विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here