हरियाणा में कठपुतली या फिर रबड़ स्टैंप नहीं रहेंगे मेयर, अब सीधे होगा चुनाव

0

Chandigarh News (citymail news ) हरियाणा में नगर निगम के मेयर, नगर परिषद व पालिका अध्यक्ष का चुनाव अब सीधे मतदाता करेंगे। सरकार ने इसके लिए अपनी सहमति जता दी है। इस निर्णय को अमल में लाने के लिए हरियाणा नगर पालिका अधिनियम में जो भी बदलाव होंगे, उसे कैबिनेट के माध्यम से संशोधन किया जाएगा। इसके लिए सरकार बकायदा अध्यादेश लाएगी।

  • इस प्रस्ताव को दी गई स्वीकृति-

वीरवार को कैबिनेट की बैठक में इस प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। सीधे चुनाव के बाद जहां मेयर को अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाना मुश्किल होगा, वहीं उन्हें अधिकार भी बहुत मिल जाएंगे। बता दें कि अभी तक हरियाणा में मेयर तथा नगर परिषद व पालिका के अध्यक्ष को पार्षदों द्वारा चुना जाता है। पार्षदों को भी जब मेयर व अध्यक्ष की कार्यप्रणाली पर नाराजगी होती है तो उन्हें अविश्वास प्रस्ताव लाकर हटा दिया जाता है। यही नहीं बल्कि मेयर व अध्यक्ष को कोई खास अधिकार नहीं होते। जिसके चलते नगर निगम व परिषद में उनकी कोई खास पूछ नहीं होती। अधिकारी को बदलने या फिर उनके प्रति कोई भी निर्णय ना ले पाने की वजह से मेयर व अध्यक्ष की हैसियत केवल कठपुतली से अधिक नहीं होती। मगर सीधे चुनाव के बाद जहां मेयर को हटाना मुश्किल होगा, वहीं उन्हें बहुत से अधिकार भी प्राप्त होंगे, जिसके बाद संभवतय: उन्हें रबड़ स्टैंप कहना नामुमकिन होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here