ठग ऑफ फरीदाबाद अनिल जिंदल के दो और साथी गिरफ्तार, इन हस्तियों के फंसे हैं करोड़ों रुपए

0

Faridabad News (citymail news ) सारा रुपया साफ यानि कि एसआरएस गु्रप के सरगना और महा घोटालेबाज अनिल जिंदल के दो और साथियों को फरीदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके नाम धीरज गुप्ता और विनित गुप्ता बताए गए हैं। पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने उन्हें गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि धीरज गुप्ता को एसआरएस गु्रप की 30 नामी और बेनामी कंपनियों में डायरेक्टर बनाया हुआ था। यानि कि अनिल जिंदल के काले कारनामों में यह दोनों भी शामिल थे। इसके चलते ही पुलिस ने इन दोनों को भी गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस द्वारा इन दोनों से गहन पूछताछ की जाएगी। जिसके बाद कई और खुलासे होने की संभावना है।

  • इस तरह से फैला था ठग कंपनी का जाल-

बता दें कि एसआरएस कंपनी ने रियल एस्टेट, ज्वैलर्स, रिटेल कारोबार सहित कई धंधों में अपने हाथ अजमाए थे। दरअसल एसआरएस गु्रप का असली काम लोगों को मोटे ब्याज का लालच देकर उनसे अपनी कंपनी में निवेश करवाना था। अनिल जिंदल के काम की स्टाईल इतनी जबरदस्त थी कि वह लोगों को उनका ब्याज सही 1 तारीख को पहुंचाता था। जिसके चलते लोगों को उसकी कंपनी पर विश्वास जमता गया और उसके पास करोड़ों-अरबों रुपयों का निवेश आता गया। इस तरह से अनिल जिंदल की ठग कंपनी ना केवल मालामाल होती गई, बल्कि उसकी कंपनी में शामिल अधिकांश लोग खूब ऐश भी कर रहे थे। खुद अनिल जिंदल भी लोगों के रुपयों पर आए दिन विदेशों के सैर सपाटे में व्यस्त रहता था।

  • हर आम व खास ने निवेश किया हुआ था-

अनिल जिंदल की ठग कंपनी में ना केवल बड़े बड़े राजनेता, मंत्री, आईएएस, आईपीएस, सहित बड़े बडे बिजनेसमैन, तमाम सरकारी विभागों के अधिकारी व हर आम व खास ने निवेश किया हुआ था बल्कि अधिकारियों की करोड़ों रुपए की रिश्वत की कमाई इस ठग कंपनी में आज भी फंसी हुई है। अनिल जिंदल व उसके गिरोह में शामिल कई लोग नीमका जेल में बंद हैं। उसके दो और साथी भी गिरफ्तार किए गए हैं। पीडि़त लोगों का मानना है कि बेशक उनके रुपए इस कंपनी में फंसे हुए हैं, मगर उन्हें इस बात की भी तसल्ली है कि राजा महाराज की तरह से मंहगे बंगले में रहने वाला ठग ऑफ फरीदाबाद अनिल जिंदल आज जेल की चारदीवारी के अंदर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here