मौसम विभाग की घोषणा: दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा में लगातार तीन दिन होगी बारिश

0

Chandigarh News (citymail news) हरियाणा व दिल्ली-एनसीआर में लाखों लोग उमस भरी गर्मी से लोग जूझ रहे हैं। एक अनुमान के अनुसार इस वर्ष मानसून जल्दी आने के बावजूद दिल्ली व हरियाणा में आशा अनुरूप बारिश नहीं हो पाई है। जिसके चलते सावन का पूरा महीना बिना बारिश के ही बीत गया। ऊपर से लोगों को भारी गर्मी से भी परेशान होना पड़ रहा है। लोगों के लिए परेशानी वाली बात तो यह है कि मानसून ना होने की वजह से भीषण गर्मी के चलते दिन रात ए.सी. भी चलते रहे हैं, जिससे लोगों को बिजली बिलों के रूप में तगड़ा झटका लगा है। बारिश होने से मौसम सुहाना हो जाता है और गर्मी के साथ साथ लोगों को बिजली बिल का भी झटका नहीं लगता। मगर इस वर्ष लगातार मौसम विभाग की घोषणा के बावजूद मानसून धोखा दे गया।

  • बार-बार की घोषणा के बाद भी नहीं हुई बारिश

इस दुखद स्थिति के बीच हिसार स्थित कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग ने एक बार फिर से बारिश होने की घोषणा की है। मौसम विभाग का कहना है कि अगस्त व सितंबर के महीनों में भारी बारिश होने की संभावना से लोगों को भयंकर गर्मी से राहत मिलने का अनुमान है। इसी के अंतर्गत मौसम विभाग ने इसकी शुरूआत 9 अगस्त से लेकर 11 अगस्त तक के बीच में की है। मौसम विभाग ने कहा है कि 9 अगस्त से बारिश की शुरूआत होने के आसार हैं, जोकि लगातार तीन दिनों तक जारी रह सकती है। इससे लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिलने की संभावना जताई गई है।

  • बारिश ना होने से किसानों को होगा बड़ा नुक्सान-

बता दें कि अगस्त के दूसरे सप्ताह में मौसम विभाग ने अच्छी बारिश होने की संभावना जताई है। कृषि विशेषज्ञों का मानना है कि यदि मानसून की सक्रियता नहीं बढ़ी तो हरियाणा व आसपास के इलाकों में खरीफ सीजन की फसल को तगड़ा नुक्सान हो सकता है। खासतौर पर 15 लाख हैक्टेयर में खड़ी धान की फसल बोने वाले किसानों को खासी परेशानी झेलनी पड़ सकती है। आईएमडी के अनुसार इन तीन दिनों में बढिय़ा बारिश होने की संभावना है। इस बारिश से जहां किसानों को लाभ होगा, वहीं आम आदमी को गर्मी से भारी राहत भी मिलेगी। मौसम विभाग के अनुसार के अनुसार इस बार दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा में 75 प्रतिशत तक कम बारिश दर्ज की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here