हुक्का पीना पड़ा मंहगा, गांव के 24 लोग हुए पॉजीटिव, 1 की मौत, प्रशासन ने गांव किया सील

0

Jind News (ciymail news ) एक गांव में सामूहिक रूप से हुक्का पीना कुछ ग्रामीणों को भारी पड़ गया। सभी लोग कोरोना की चपेट में आ गए तथा एक दुकानदार की मौत भी हो गई। यह घटना जींद जिले के शादीपुर गांव की है। गांवों में हुक्का पीने का यह प्रचलन वर्षों से है। चौपाल पर या किसी के घर के बरामदे में बैठकर ग्रामीण सौहार्दपूर्ण तरीके से हुक्का पीते हैं। हरियाणा में यह प्रथा सालों से चली आ रही है। मगर जब से कोरोना का आंतक व्याप्त हुआ है, तब से हुक्का पीने पर सरकार ने रोक लगा दी थी। हालांकि कोरोना काल में पहले पहल तो लोगों ने इस प्रथा से किनारा किया भी, मगर जब लगा कि कोरोना उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता, तब से वह आपस में बैठकर बीडी, सिगरेट व हुक्का पीने लगे। मगर जींद जिले में 24 लोगों को कोरोना की अनदेखी करना भारी पड़ गया, उन्हें इस बीमारी ने अपनी चपेट में ले लिया है। हरियाणा में इसे अब तक का सबसे बड़ा मामला माना जा रहा है।

  • शादी से आए युवक से फैला सक्रंमण-

बताया गया है कि जींद में बीती 4 जुलाई को गांव का ही एक युवक गुरूग्राम में विवाह समारोह में शामिल होने के लिए गया था। युवक हुक्का पीने का शौकीन बताया जाता है। इलाके में ही उसकी फर्नीचर की दुकान है। वह अपनी दुकान व घर के बाहर बैठकर हुक्का पीता था। लोग उसके पास आते, हाल-चाल जानते और हुक्का भी पीकर जाते थे। धीरे धीरे ऐसे बहुत से लोगों ने उसके हुक्के पर हाथ आजमाए। कुछ दिन बाद उक्त युवक की तबियत खराब हुई तो उसने अपना कोरोना टैस्ट करवाया। जिसमें वह पॉजीटिव पाया गया। इसका परिणाम यह निकला कि गांव में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत हो गई और 24 लोग सक्रंमित पाए गए। यह खबर जैसे ही प्रशासन की जानकारी में आई तो हडकंप मच गया। आनन फानन में पूरे गांव को सील कर दिया गया। सभी कोरोना पॉजीटिव को क्वारंटाईन कर ईलाज शुरू कर दिया गया है।

  • कोरोना फैलने का आसान माध्यम है हुक्का-

प्रशासन ने पूरे जिले में एक बार फिर से सभी को हुक्का पीने से सख्त मना कर दिया है। जुलाना स्वास्थ्य केंद्र के एसएमओ डा.नरेश वर्मा ने गांव में सक्रंमण फैलने का कारण हुक्के को बताया है। उनका कहना है कि हुक्के की वजह से सक्रंमण बहुत तेजी से फैलता है। इसमें जब कोई व्यक्ति हुक्का पीने के लिए सांस खींचता है तो यह सीधा सांस के माध्यम से फेफडों में पहुंच जाता है। इसलिए बीडी, सिगरेट व हुक्का पीने से लोगों को परहेज करना चाहिए। यह वायरस फैलने का आसान माध्यम है। इसके चलते ही गांव शादीपुर के 24 लोग कोरोना के शिकार हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here