सीएम विंडो में शिकायत: फरीदाबाद के संतोष अस्पताल को सील करके अवैध ईमारत को तोड़ा जाए

0

Faridabad News (citymail news ) फरीदाबाद के एनआईटी नंबर 3 में स्थित संतोष अस्पताल को अवैध बताते हुए उसे सील करने की मांग की गई है। इस संदर्भ में एक व्यक्ति ने सीएम विंडो पर शिकायत दर्ज करवाई है। इस युवक ने अपने पत्र में संतोष अस्पताल ही नहीं बल्कि उसके साथ बनाए जा रहे अवैध निर्माण को भी तोडऩे की अपील की है।

  • अस्पताल की पूरी बिल्डिंग अवैध –

सीएम विंडो पर दी गई शिकायत में कहा गया है कि एनआईटी नंबर 3 एफ/ 139 में संतोष अस्पताल की बिल्डिंग पूरी तरह से अवैध है। ना तो इसका नक्शा है और ना ही कंपलीशन। पार्किंग ना होने की वजह से इस रोड पर अधिकांश समय जाम लगा रहता है। संतोष अस्पताल के साथ ही निगम के तोडफ़ोड़ विभाग की सांठगांठ से एक और अवैध ईमारत खड़ी की जा रही है। इसमें लाखों रुपए की डील होने की खबर है। जिस वजह से तोडफ़ोड़ विभाग ने इस अवैध निर्माण की ओर भी आंखे बंद कर ली हैं।

  • लोगों की जान से खिलवाड़ –

सीएम विंडो को दी गई शिकायत में कहा गया है कि इस अवैध ईमारत में अस्पताल चलने की वजह से लोगों की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। इस अस्पताल में कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है, इसलिए तुरंत प्रभाव से अवैध निर्माण को गिराया जाए और संतोष अस्पताल को सील किया जाए। शिकायतकर्ता ने निगम अधिकारियों पर भी आरोप लगाए हैं कि शहर में सील पड़ी ईमारतों को खुलवा दिया गया है और वहां धड़ल्ले से काम चल रहे हैं। जोकि पूरी तरह से गैरकानूनी है। शिकायतकर्ता ने तोडफ़ोड़ विभाग के एक अधिकारी पर आरोप लगाया कि उसकी अवैध निर्माण माफियाओं से गहरी सांठगांठ है, जिसकी वजह से शहर में चारों ओर अवैध निर्माण हो रहे हैं। यह अधिकारी जब भी इस सीट पर आता है तो माफियाओं की चांदी हो जाती है। उन्होंने मुख्यमंत्री विंडो के जरिए सरकार से मांग की है कि संतोष अस्पताल को सील किया जाए और उसके साथ बन रही ईमारत को जमींदोज किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here