हरियाणा में लंबे-चौड़े बिजली बिलों से मिलेगी राहत, खत्म होगा बिल का झंझट, देंखे पूरी रिपोर्ट

0

Chandigarh News (citymail news ) जल्द ही अब हर घर व दुकान में बिजली के स्मार्ट मीटर लगने शुरू हो जाएंगे। इस स्मार्ट मीटर की खासियत यह होगी कि आप जितने पैसे इसमें डालोगे, उतनी ही बिजली आपको मिलेगी। हालांकि हरियाणा सरकार ने स्मार्ट मीटर लगाने की शुरूआत तो कर दी है, लेकिन इसकी धीमी रफ्तार को तेज करने की कवायद शुरू कर दी गई है। हरियाणा बिजली नियामक आयोग ने स्मार्ट मीटर लगाए जाने को लेकर डिस्कॉम को निर्देश जारी किए हैं। हरियाणा में बिजली कंपनियों को लेकर गठित डिस्कॉम के एमडी शत्रुजीत कपूर से कहा गया है कि जल्द से जल्द राज्य के प्रत्येक घर,दुकान व फैक्ट्री में स्मार्ट मीटर लगाने का काम तेज गति से किया जाए। आयोग के चेयरमैन डीएस ढेसी ने लोगों को बिजली के बढ़ते बिलों से राहत दिलवाने के लिए स्मार्ट मीटर योजना पर खुद संज्ञान लिया है और डिस्कॉम से रिपोर्ट तलब की है।

  • डिस्कॉम ने पेश की रिपोर्ट-

डिस्कॉम के एमडी शत्रुजीत कपूर ने स्मार्ट मीटर परियोजना को लेकर आयोग के समक्ष अपनी पूरी रिपोर्ट पेश की है। उसमें बताया गया है कि स्मार्ट मीटर किस प्रकार से कार्य करेगा। उससे उपभोक्ता को कैसे और कितना लाभ मिलेगा। किस तरह से उसे रिचार्ज किया जा सकेगा। इसके साथ साथ बिजली बिल लेने वाले रीडर तत्काल स्मार्ट मीटर से पूरी रीडिंग लेकर बिल फोन पर मैसेज केे जरिए भेज दिए जाएंगे। यानि कि एक ओर रीडिंग ली तो दूसरी ओर बिल आपके फोन पर होगा। ऐसे तमाम पहलुओं को लेकर डिस्कॉम ने आयोग के चेयरमैन को अपनी रिपोर्ट पेश की है। इस रिपोर्ट की पूरी समीक्षा करने के बाद आयोग उस पर अपनी स्वीकृति लगाएगा। इसके बाद राज्य भर में इस कार्य को लेकर तेजी आने की पूरी संभावना है।

  • बिजली मीटर व रीडिंग को लेकर दुखी हैं लोग-

दरअसल राज्य में बिजली बिलों के बढ़ते रेट और रीडिंग के बाद अनाश शनाप बिलों को लेकर लोग बेहद परेशान हैं। खासतौर पर लॉकडाऊन के चार महीनों में तो लोगों की बिजली बिलों ने कमर तोड़ दी है। बिना रीडिंग लिए एवरेज स्तर पर भेजे गए बिजली बिलों को देखकर लोगों के होश उड़ गए। लोगों के बिना बिजली इस्तेमाल किए भी हजारों व लाखों रुपए के बिल भेज दिए गए । इससे पूरे राज्य में अफरा तफरी का माहौल रहा। हालांकि बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने कहा भी कि बिजली बिलों पर किसी प्रकार का सरचार्ज नहीं लगेगा और बिलों को ठीक किया जाएगा। इसके बावजूद लोगों को आज भी अपने बिल ठीक करवाने के लिए धक्के खाने पड़ रहे हैं। बिना रीडिंग लिए लोगों के लंबे -चौड़े बिल भेज दिए गए । लेकिन लोगों के साथ दिक्कत यह है कि बिजली निगम के दफ्तरों में उनकी फरियाद सुनने के लिए कोई तैयार नहीं है। मजबूरन लोगों को मीटर कटने के डर से अपने बिल भरने पड़ रहे हैं।

  • प्रदेश के इन जिलों में लगाए जाएंगे मीटर-

बिजली कुप्रबंधन की स्थिति में सुधार के लिए ही राज्य के दक्षिण एवं उत्तरी बिजली वितरण निगम द्वारा 10 लाख नए मीटर लगाए जाएंगे। इस योजना के लिए पानीपत, करनाल, पंचकूला, फरीदाबाद और गुरूग्राम को चुना गया है। जबकि पानीपत में दस हजार मीटर लगाए जा चुके हैं। इस योजना को सरकार द्वारा कामयाब माना जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here