तीन दिन के बाद फिर सक्रिय हुआ मानसून, दिल्ली-NCR व हरियाणा में होगी जोरदार बारिश

0

New Delhi News (citymail news) तीन दिन की चुप्पी के बाद एक बार फिर से मानसून सक्रिय होने की दिशा में बढ़ रहा है। मौसम विभाग के अनुसार तीन दिन तक मानसून का रूख हिमालय दिशा की ओर बढ़ जाने की वजह से दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा सहित आसपास के इलाकों में बारिश नहीं हो पाई है। हालांकि रविवार से बुधवार तक हुई बरसात की वजह से तापमान में कमी दर्ज की गई और लोगों को उमस भरी गर्मी से काफी हद तक राहत मिली है। लेकिन अब संभावना जताई जा रही है कि मानसून का रूख फिर से दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा के ओर होता दिखाई दे रहा है। इसके चलते ही एक बार फिर से दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा में जोरदार बारिश होने की पूर्ण संभावना बन गई है।

  • 26 जुलाई से फिर सक्रिय होगा मानसून-

मौसम विभाग के अनुसार 26 जुलाई यानि कि रविवार से एक बार फिर दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा सहित आसपास के राज्यों में बारिश के साथ तेज हवाएं भी चलेंगी। बता दें कि बीते रविवार, सोमवार, मंगलवार व बुधवार को दिल्ली, एनसीआर व हरियाणा में बारिश होने से लोगों को भारी गर्मी से राहत मिली है। चार दिन तक हुई बरसात की वजह से तापमान में गिरावट दर्ज की गई, इससे लोगों को ठंडक़ का अहसास हुआ। मौसम विभाग ने बताया कि बीते बुधवार का दिन तो सबसे ठंडा दिन रिकार्ड किया गया है। पंरतु बुधवार के बाद अचानक टर्फ रेखा का रूख हिमालयी क्षेत्र की ओर जाने से दिल्ली, एनसीआर व हरियाणा में बारिश रूक गई। वीरवार व शुक्रवार को बारिश ना होने से धूप में तीखापन महसूस किया गया। लेकिन अब संभावना है कि मानसून का रूख एक बार फिर से दिल्ली व हरियाणा की ओर हो गया है। इसके परिणामस्वरूप दिल्ली- एनसीआर व हरियाणा में अच्छी बारिश होने की पूरी संभावना है।

  • इन इलाकों में होगी बारिश-

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली के साथ लगते गुरूग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक, करनाल, पलवल, मेवात, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी, नारनौल, झज्जर, पानीपत, अंबाला, यमुनानगर व पंचकूला के साथ साथ नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ, अलीगढ़ व राजस्थान के कई शहरों में बारिश होगी। विभाग के अनुसार शनिवार से मौसम में बदलाव होने की संभावना है। जिसके चलते अगले कुछ दिनों तक उपरोक्त शहरों में अच्छी बारिश होने के संकेत हैं। इस बारिश के बाद एक बार फिर से लोगों को तपती गर्मी से राहत मिलने के आसार हैं, यही नहीं बल्कि किसानों के लिए भी मानसून की यह बारिश अपनी फसल के लिए यह मौसम बेहद उपयोगी साबित हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here