मुख्यमंत्री मनोहर लाल की रोहतक सभा में हंगामा, एक व्यक्ति ने किया सुसाईड का प्रयास

0

Rohtak News (citymail news ) पुलिस की कानून व्यवस्था से दुखी होकर एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सभा में खुदकुशी करने की कोशिश की। सीएम की सभा में ऐसा हादसा होने से प्रशासन की सांसे उखड़ गई। यह व्यक्ति अपने साथ सुसाईड नोट भी लेकर आया था। इंसाफ ना मिलने से परेशान इस व्यक्ति ने एक साल पहले भी एसपी आफिस पर सुसाईड करने का प्रयास किया था। लेकिन तभी से वह इंसाफ के लिए दर दर की ठोंकर खा रहा है। वीरवार को जैसे ही सीएम रोहतक में नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ के पदभार ग्रहण कार्यक्रम में शामिल होने आए, तभी इस व्यक्ति ने अपने पैरों की नसें काट लीं और सुसाईड का प्रयास किया।

  • नशा मुक्ति केंद्र चलाता है पीडि़त-

जानकारी के अनुसार रोहतक के कसाला गांव के रहने वाले राजबीर का अपना नशा मुक्ति केंद्र था। उसका कहना है कि वह अपने इस केंद्र के जरिए लोगों का नशा छुड़वाने का काम कर रहा था। लेकिन कुछ लोगों की शिकायत पर राजबीर के खिलाफ पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज कर लिया गया। राजबीर का आरोप है कि इस मामले को समाप्त करवाने के लिए उसने एक पुलिसकर्मी को रुपए भी दिए। लेकिन मामला खारिज नहीं हुआ और ना ही उसका पैसा उसे वापिस मिला। इससे कुव्यवस्था से तंग होकर राजबीर ने एक साल पहले एसपी दफ्तर पर भी सुसाईड करने का प्रयास किया और अपने दोनों पैरों की नसें काट ली थी। इस मामले में कार्रवाई ना होने से परेशान होकर राजबीर वीरवार को रोहतक पहुंच गया और सीएम के कार्यक्रम में भी अपने दोनों पैरों की नसें काट ली। राजबीर इस कानून व्यवस्था से हताश होकर मरना ज्यादा बेहतर समझता है। इसलिए दूसरी बार फिर उसने सुसाईड का प्रयास किया। राजबीर ने इस मामले में दो अधिकारियों पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here