दुनिया में सबसे पहले आएगी भारत और ब्रिटेन की कोरोना दवा, ये होगी कीमत

0

New Delhi News (citymail news ) कोरोना से छुटकारा दिलवाने वाली भारत की देसी वैक्सीन लगभग तैयार होने की दिशा में तेज गति से आगे बढ़ रही है। इस दवा का दिल्ली के एम्स सहित हरियाणा के रोहतक व पटना में तेज गति से मानव परीक्षण चल रहा है। इस दवा का जानवरों पर सफल परीक्षण किया जा चुका है। इस सफलता के बाद इस वैक्सीन का देश भर के कई मेडीकल कॉलेज में दूसरे व तीसरे चरण का परीक्षण किया जा रहा है।

  • 15 अगस्त को लांच हो सकती है यह दवा-

माना जा रहा है कि पंद्रह अगस्त के दिन लालकिले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस दवा का तोहफा देश के लोगों को समर्पित कर सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी खुद ही दवा के परीक्षण पर नजर रखे हुए हैं। बताया तो यह भी गया है इस दवा के रेट बहुत कम होंगे। कहा गया है कि मात्र एक हजार रुपए में यह दवा कोरोना पीडि़तों के लिए उपलबध करवा दी जाएगी। न्यूज 24 की एक रिपोर्ट के अनुसार इस दवा की दो से तीन डोज के बाद कोरोना मरीज पूरी तरह से स्वस्थ हो सकता है। युद्वस्तर पर इस दवा के निर्माण पर काम चल रहा है। माना जा रहा है कि यदि इसका परीक्षण पूरी तरह से सफल रहा तो देश से कुछ ही महीनों में कोरोना का पूरी तरह से खात्मा हो जाएगा।

  • ब्रिटेन ने भी तैयार कर ली कोरोना की दवा-

भारत के अलावा ब्रिटेन की आक्सफोर्ड यूनिवसर्टी भी इस दवा के निर्माण के करीब पहुंच चुकी है। बताया गया है कि ब्रिटेन ने इस दवा के कई प्रकार के परीक्षण पूरे कर लिए हैं। जानवरों के साथ साथ मानव पर भी इस दवा के कई परीक्षण पूरी तरह से सफल हो चुके हैं। बताया गया है कि इस दवा की डोज से मानव का इम्युन सिस्टम इतना मजबूत हो जाता है कि उस पर कोरोना ही नहीं बल्कि और भी जानलेवा बीमारियों का प्रभाव क्षीण हो जाएगा। माना जा रहा है कि ब्रिटेन की इस दवा का परीक्षण का अंतिम चरण समाप्त होने की दिशा में बढ़ चुका है। वहीं भारत का प्रयास भी यही है कि वह पंद्रह अगस्त के दिन देसी कोरोना दवा को करोड़ों लोगों को समर्पित कर इस भयंकर बीमारी से हमेशा के लिए छुटकारा दिलवा दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here