बाहर घूम रहे हैं कोरोना मरीज, स्वास्थ्य विभाग ने दी कानूनी कार्रवाई की चेतावनी

0
Palwal News (citymail news) कोविड-19 के पॉजिटिव मरीजों को हरियाणा सरकार के दिशा-निर्देशानुसार घर में ही क्वारंटाइन किया जा रहा है। खासकर वह मरीज जो असिम्टोमिक पाए जा रहे है। सिविल सर्जन ने सख्त शब्दों में बताया कि जो भी मरीज होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करता पाया गया उसके खिलाफ प्रशासनिक कार्यवाही की जाएगी।
  • घर के भीतर रहकर करें ईलाज-

सिविल सर्जन डा. ब्रह्मदीप ने बताया कि जो भी मरीज घर में क्वारंटाइन किए गए है उन्हें प्रशासन की ओर से सचेत किया गया है कि वह घर पर ही रहे और पूरी गाइडलाइन्स का पालन करें। अगर कोई भी मरीज नियमों को तोडक़र इन्फेक्शन फैलाता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी। यह निर्णय उनके परिवार के साथ-साथ पूरे समाज की भलाई को ध्यान में रखकर लिया गया है ताकि मरीज से इन्फेक्शन पूरे परिवार में ना फैले। क्योंकि यह इन्फेक्शन इतना घातक है कि छोटे बच्चों व उमरदराज लोगों को जल्दी चपेट में लेता है। उन्होंने कहा कि सभी लोगों को इस घातक महामारी में जरूरी एहतियात बरतने होंगे। अति आवश्यक कार्य हो तभी घर से बाहर जाएं। घर से बाहर जाते समय फेस मास्क पहने व सैनेटाइजर अपने साथ लेकर जाएं।
  • घातक है ये बीमारी-

डा. ब्रह्मदीप ने बताया कि कोविड-19 मरीज की होम आइसोलेशन गाइडलाइन्स के अनुसार मरीज को अलग कमरे में परिवार से बिल्कुल अलग रहना चाहिए और बीस सैकंड तक साबुन से हाथ धोने चाहिए अथवा हैंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए। मरीज के कमरे की सफाई एक प्रतिशत हायपोक्लोराइड सोल्यूशन से होनी चाहिए। अगर मरीज की तबियत में कोई परेशानी जैसे सांस लेने में तकलीफ, गले व छाती में दर्द, मैंटल कन्फयूजन आदि दिखाई देती है तो इस बारे में अपने चिकित्सक से तुरंत कन्सल्ट करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here