फरीदाबाद के मजदूरों की लड़ाई लडक़र थके विधायक, आखिरकार ऐसे किया धरना खत्म

0

Faridabad News (citymail news) आखिरकार सरकार व प्रशासन का साकारात्मक सहयोग ना मिलने की वजह से कई दिनों से चला आ रहा कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा का धरना समाप्त हो गया। हैरत की बात है कि जिन जेसीबी कर्मचारियों के पक्ष में विधायक कंपनी के गेट पर बैठे थे, उन कर्मचारियों ने भी विधायक से दूरी बना रखी थी। हालांकि विधायक ने भरपूर प्रयास किया कि श्रमिकों को न्याय मिले। विधानसभा के बाहर प्रदर्शन किया और एक साथी विधायक चिरंजीव राव के साथ सरकार को घेरने का प्रयास भी किया। मगर अंतत: सफलता नहीं मिली।

  • प्रशासन व सरकार ने नहीं दिया ध्यान-

फरीदाबाद में सत्तापक्ष के मंत्री, विधायक व प्रशासन ने भी उनकी बात पर ध्यान नहीं दिया। समय खराब होता देखकर आखिरकार विधायक नीरज शर्मा ने अपना धरना समाप्त करने का निर्णय ले लिया। लेकिन साथ ही उन्होंने घोषणा की कि वह श्रमिकों के हित में अपना आंदोलन जारी रखेंगे। उन्होंने अपने आंदोलन में वीनस कंपनी के उन श्रमिकों का मुद्दा भी जोर शोर से उठाया, जिन्हें नौकरी से निकाल दिया गया था। विधायक का आरोप था कि नौकरी पर रहते समय काम करते हुए इन श्रमिकों के हाथ की उंगलियां कट गई थी। इसलिए उन्हें नौकरी से निकाला गया। मगर भाजपा सरकार ने

  • श्रमिकों के हक की लड़ाई जारी रहेगी-

कर्मचारियों की छंटनी के विरोध में आयोजित रामकथा का रविवार को समापन हो गया। सेक्टर 58 में जेसीबी कंपनी के गेट पर आयोजित यह रामकथा पिछले एक माह से जारी थी। इस अवसर पर शहर के कोने कोने से पहुंचे श्रोताओं को संबोधित करते हुए विधायक नीरज शर्मा ने कहा कि रामकथा संपन्न हो गई है लेकिन इन श्रमिकों के हक की लड़ाई जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि यह मामला राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग और लेबर कमिश्नर के पास लंबित है, जल्दी ही न्याय होगा। विधायक नीरज शर्मा की अपील पर वीनस कंपनी में अपने अंग गंवा चुके छंटनी ग्रस्त कर्मचारियों के जीवन यापन के लिए लोगों ने खुले दिल से दान दिया। नीरज शर्मा ने सभी दानदाताओं से चंदा चेक या आरटीजीएस के माध्यम से देने की अपील की। उन्होंने कहा कि ये परिवार अप्रैल से ही लगातार किल्लत में हैं वीनस कंपनी ने इन्हें निकाल और दिया है अत: इनकी सहायता करें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here