मौसम विभाग ने कहा, दिल्ली, गुरूग्राम, फरीदाबाद,सोनीपत, पानीपत सहित इन जिलों में जारी रहेगी बारिश

0

New Delhi News (citymail news ) देश में मानसून अब रफ्तार पकड़ता दिखाई दे रहा है। शनिवार की देर रात व रविवार की सुबह हुई बारिश से दिल्ली व हरियाणा पूरी तरह से भीग गया। दिल्ली में हुई बारिश की वजह से कई इलाके जलजमाव से बुरी तरह से घिर गए। दिल्ली में कई इलाकों में तो बस व कारें तक डूब गई। इससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। हरियाणा के कई जिले भी मानसूनी बरसात से सराबोर हो गए । वहीं रविवार सुबह हुई बारिश से मौसम सुहाना हो गया है और लोगों को भारी गर्मी से राहत मिली है।

  • ये रहेगा इन राज्यों का मौसम-

मौसम विभाग ने एक बार फिर से जानकारी दी है कि अगले कुछ घंटों में हरियाणा, दिल्ली व उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में तूफान के साथ बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने कहा है कि हरियाणा, दिल्ली, उत्तराखंड, उत्तरी राजस्थान, दक्षिणी पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल तथा उत्तरी पूर्वी राज्यों में बिजली गरजने के साथ ही बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने कहा कि 18 जुलाई से मानसून के सक्रिय होने के बाद अगले कई दिनों तक इन राज्यों में बारिश हो सकती है।

  • हरियाणा के इन जिलों में रहेगी बारिश-

मौसम विभाग ने हरियाणा के इन जिलों में बारिश का दौर जारी रहने की घोषणा की है। विभाग के अनुसार तीन दिन तक लगातार बारिश का दौर रहेगा। शनिवार देर रात व रविवार सुबह हुई बारिश के अब लगातार इसके जारी रहने की संभावना है। गुरूग्राम, फरीदाबाद, रेवाड़ी, नूंह, पलवल, महेंद्रगढ़, नारनौल, सोनीपत, पानीपत, करनाल, यमुनानगर, अंबाला, हिसार, सिरसा, पंचकूला सहित अनेक जिलों में बारिश से लोगों को राहत मिलेगी।

  • दिल्ली-हरियाणा में ऐसा रहेगा मौसम-

दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा में जुलाई महीने में बारिश का अभाव रहा है। बीते 15 दिनों में 6 साल में सबसे कम बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने कहा है कि 18 जुलाई से सक्रिय हुए मानसून के चलते दिल्ली व हरियाणा में 23 जुलाई तक लगातार बारिश होने का अनुमान है। 22 जुलाई से मानसूनी बारिश में तेजी आने की पूरी संभावना है।

  • हिमाचल प्रदेश में अलर्ट जारी-

दिल्ली, हरियाणा, पंजाब व चंडीगढ़ के साथ साथ यदि हिमाचल प्रदेश की बात करें तो वहां बारिश का दौर जारी है। विभाग ने हिमाचल प्रदेश में अलर्ट जारी कर पयर्टकों को वहां ना आने के लिए कहा है। विभाग ने कहा है कि 21 जुलाई तक हिमाचल के पहाड़ी इलाके के साथ साथ मैदानी भागों में भी बारिश होने की संभावना है। कहीं कहीं भूस्सलखन का भी खतरा बना रह सकता है। वहीं असम व बिहार की बात करें तो इन दो राज्यों में भारी बाढ़ की वजह से भारी तबाही हो रही है। जिससे लाखों लोग बेघर हो गए हैं और उनकी परेशानी इस कदर बढ़ गई है कि वह इस संकट से निकलने के लिए सरकार की ओर मदद की गुहार लगा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here