चीन का दावा और कोरोना की देसी दवा को लेकर केंद्रीय मंत्री ने दी यह बड़ी जानकारी

0

New Delhi News (citymail news ) कोरोना वैक्सीन को लेकर लगातार गुड न्यूज आ रही हैं। शनिवार को केंद्रीय मंत्री डा. हर्षवर्धन ने भी संकेत दिए हैं कि जल्द ही भारत कोरोना पर जंग जीत लेगा। इस वायरस को खत्म करने के लिए दुनिया भर के कई देश लगातार वैक्सीन बनाने के काम में जुटे हुए हैं। चीन ने तो दावा किया है कि उसकी दवा का ट्रायल जल्द ही तीसरे मानव परीक्षण को पूरा करने जा रहा है। यदि ऐसा हुआ तो पूरे विश्व भर में चीन ऐसा अकेला देश होगा, जोकि कोरोना वैक्सीन की दवा सबसे पहले बाजार में उतार देगा।

  • केंद्रीय मंत्री ने कहा-

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन ने कहा है कि भारत में भी कोरोना वैक्सीन का पहले व दूसरे चरण का ट्रायल आरंभ हो गया है। यह ट्रायल लगातार सफलता की ओर जा रहा है। आइसीएमआर व भारत बॉयोटेक की देसी दवा का डोज पहले चरण को पार करता हुआ दूसरे चरण की ओर बढ़ चला है। अभी तक जितने भी लोगों को यह दवा दी गई है, उनमें साईड इफ्ेक्ट देखने को नहीं मिले हैं। इसका मतलब साफ है कि भारत लगातार सफलता की ओर बढ़ रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने एक टवीट के जरिए कहा है कि उनकी दवा लगातार सफल हो रही है। लगता है कि कोरोना के खिलाफ जंग अब निर्णायक दौर में है। पिछले कई महीनों से कोरोना वैक्सीन को लेकर पॉजीटिव संकेत मिल रहे हैं। हम जल्द ही इन प्रयासों से यह जंग जीत लेंगे।

  • देश में 10 लाख से अधिक हुए केस

देश भर में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। सरकारी आंकड़ों की बात करें तो देश भर में कोरोना के पॉजीटिव केस दस लाख से भी अधिक हो गए हैं। वहीं करीब 25 हजार से अधिक लोग मौत के मुंह में जा चुके हैं। कोरोना से बचाव को लेकर सरकार लगातार वैक्सीन बनाने की दिशा में काम कर रही है। दिल्ली, महाराष्ट्र गुजरात, आसाम, मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गोवा, उतराखंड व हरियाणा में तेजी से केस बढ़े हैं। इन राज्यों में कोरोना का संकट तेज गति से बढ़ता जा रहा है। जिसके चलते यूपी, बिहार व उत्तराखंड सहित कई राज्यों में प्रत्येक शनिवार व रविवार को लॉकडाऊन लगा दिया है।

  • हरियाणा में भी हुआ है मानव ट्रायल-

इस कड़ी में ही शुक्रवार को पीजीआई मेडीकल कॉलेज रोहतक में तीन लोगों पर इसका परीक्षण किया गया है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के अनुसार इस दवा का कोई साईड इफेक्ट नहीं हुआ है। बता दें कि पीजीआई कॉलेज देश के उन 13 चुनिंदा केंद्रों में शामिल है, जिसे कोरोना वैक्सीन की ट्रायल के लिए चुना गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here